Loading...    
   


ग्वालियर के लिए गुड न्यूज़: स्वच्छता सर्वेक्षण में 15 पायदान ऊपर आया | GWALIOR NEWS

ग्वालियर। देश भर में स्वच्छता सर्वेक्षण 2020 के लिए जारी दो तिमाही रैकिंग में ग्वालियर ने 15 सीढ़ी की छंलाग लगाई है। जिसके चलते पिछली तिमाही में जारी रैकिंग में 28 वे स्थान पर रहने वाला ग्वालियर अब 13 वें स्थान पर आ गया है। जबकि भोपाल दूसरे स्थान से पिछड़कर पांचवे पायदान पर पहुंचा है। साथ ही रैकिंग सुधार के बाद भी दोनों तिमाहियों में ग्वालियर प्रदेश का चौथा शहर रहा है। केन्द्रीय शहरी विकास मंत्रालय द्वारा जारी स्वच्छता सर्वेक्षण 2020 का सर्वेक्षण तीन तिमाही में हो रहा है।

ग्वालियर के साथ जबलपुर की स्थिति भी मजबूत

जिसकी पहली तिमाही (अप्रैल, मई, जून) की जारी रैकिंग में देश का पहला शहर इंदौर, दूसरा शहर भोपाल, तीसरा शहर सूरत, चौथा शहर नासिक, पाचंवा राजकोट के बाद 22 वें स्थान पर जबलपुर व 28 वें स्थान पर ग्वाालियर की रैकिंग हुई थी लेकिन इसके बाद दूसरी तिमाही (जुलाई, अगस्त, सिंतबर) में जारी रिजल्ट में देश भर में पहले स्थान पर इंदौर, दूसरे स्थान पर राजकोट, तीसरे पर ठाणे, चौथे स्थान पर बड़ोदरा, पाचवें स्थान पर भोपाल के बाद 11वें स्थान पर जबलपुर आने के बाद रैकिंग सुधार करते हुए ग्वालियर 13वें स्थान पर आ गया है।

ग्वालियर अभी मध्यप्रदेश में चौथे नंबर पर

हालांकि डाटा फीड़िग में मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल की स्थिति सबसे ज्यादा चिंताजनक है, क्योंकि देश भर में दूसरे स्थान पर रहने के बाद तीन सीढ़ी फिसलकर पाचवें पायदान पर आ गया है। जबकि जबलपुर ने दोनों बार में अपनी रैकिंग का स्थान एक ही बनाए रखा है। दोनों तिमाही में ग्वालियर चौथे स्थान पर पहली तिमाही (अप्रैल, मई, जून) व दूसरी तिमाही (जुलाई, अगस्त, सिंतबर) में ग्वालियर की रैकिंग 28वें स्थान से 13 वें स्थान पर आ गई है। लेकिन इस पूरी उठापटक में मध्यप्रदेश के चारों शहरों में ग्वालियर का स्थान चौथा बना हुआ है।

जनवरी में होना है स्वच्छता सर्वेक्षण का सर्वे

स्वच्छता सर्वेक्षण 2020 के लिए ग्वालियर में केन्द्रीय टीम द्वारा सर्वे का काम जनवरी में होने वाला है, जिसमें केन्द्रीय जांच दल द्वारा 1500 सर्वेक्षण, 1500 फीडबैक व 1500 अंक फील्ड आर्ब्जवेशन के रहेंगे। 6000 अंकों में से 200 अंक का है सर्वे स्वच्छता सर्वेक्षण 2020 के लिए जारी सर्वे के अंक 6000 है और तीन तिमाही में होने वाले रैकिंग में अव्वल रहने पर संबंधित शहरों को 200 अंक मिलेंगे। जो स्वच्छता सर्वेक्षण की रैकिंग अंकों के साथ जुड़ेंगे। इनका कहना है कि स्वच्छता सर्वेक्षण 2020 के लिए निगम द्वारा लगातार कार्य जारी है और उसके चलते ग्वालियर की स्थिति अन्य शहरों से बेहतर है।
नरोत्तम भार्गव, अपर आयुक्त, नगर निगम ग्वालियर 


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here