Loading...

MPPSC पास सहायक प्राध्यापक नीलम पार्क में डटे हैं, आज भी मुंडन कराया | BHOPAL PROTEST

भोपाल। मध्य प्रदेश लोक सेवा आयोग द्वारा चयनित सहायक प्राध्यापक (असिस्टेंट प्रोफेसर) अपनी नियुक्ति की मांग को लेकर आज दूसरे दिन भी भोपाल के नीलम पार्क में डटे रहे। आज भी कई सहायक प्राध्यापकों ने मुंडन कराया। मुंडन कराने वाले असिस्टेंट प्रोफेसरों की संख्या 300 के आसपास पहुंच गई है। सरकार की तरफ से आज भी कोई शुभ संकेत नहीं मिला।

मुंडन कराने वाले असिस्टेंट प्रोफेसरों की संख्या 300 के पास

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में रविवार और सोमवार को चयनित 70 अभ्यर्थियों ने सामूहिक मुंडन करा कमलनाथ सरकार एवं उच्च शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी के खिलाफ विरोध जताया। 15 महीने पहले इन्हें चयनित कर लिया गया था लेकिन तब से अब तक नियुक्ति नहीं दी गई है। सरकार हाईकोर्ट के फैसले का इंतजार कर रही है। जबकि हाईकोर्ट ने सरकार को स्वतंत्र कर दिया है कि वह नियुक्ति दे।

या तो नियुक्ति लेकर जाएंगे या गोली खाएंगे 

प्रदर्शनकारी सहायक प्राध्यापकों का कहना है कि सीएम कमलनाथ और उच्च शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी के साथ 50 से अधिक बार सौहार्दपूर्ण माहौल में बातचीत हो चुकी है। हर बार 1 तारीख और नियुक्ति पत्र का आश्वासन दे दिया जाता है। अब हम किसी भी आश्वासन को मानने के लिए तैयार नहीं है। या तो नियुक्ति पत्र लेकर जाएंगे या फिर गोली खाएंगे। सरकार कुछ भी कर ले हम यहां से नहीं हटेंगे। प्रदर्शन के दौरान कुछ महिला असिस्टेंट प्रोफेसरों की तबीयत भी खराब हुई। पुलिस ने उन्हें अस्पताल पहुंचाया।