Loading...

कमलनाथ के टारगेट जीतू सोनी के बचाव में आए कांग्रेस विधायक | MP NEWS

इंदौर। मुख्यमंत्री कमलनाथ के निर्देश पर कारोबारी एवं पत्रकार जीतू सोनी के खिलाफ ना केवल कार्रवाई चल रही है बल्कि उनके प्रति सहानुभूति रखने वाले अधिकारियों के खिलाफ भी कार्रवाई की जा रही है। हालात यह है कि एडीजी वरुण कपूर तक जीतू सोनी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई न करने के कारण हटा दिया गया। ऐसी स्थिति में कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ विधायक बने आदिवासी नेता डॉक्टर हीरा अलावा ने खुले मंच से जीतू सोनी का साथ देने का ऐलान किया है।

कांग्रेस विधायक हीरा अलावा ने कहा: पूरा जयस उनके साथ खड़ा है

कांग्रेस विधायक हीरालाल अलावा ने भारतीय पत्रकार संघ के मनावर में आयोजित कार्यक्रम में कहा इंदौर के जीतू भाई सोनीजी के साथ जय आदिवासी युवा संगठन खड़ा है। उन्होने कहा जब मनावर विधानसभा क्षेत्र में अल्ट्राट्रेक सीमेंट फैक्ट्री ने ग्राम सभाओं को अनदेखा कर गलत तरीके से 32 गांवों की जमीन छीनने की कोशिश की थी, तब जीतू सोनी का अखबार हमारे साथ खड़ा था। ऐसे में अखबार के साथ कोई गलत होता है तो पूरा जयस संगठन उनके साथ खड़ा है इस बात का मैं वादा करता हूं। 

कमलनाथ से नाराज क्यों है विधायक हीरा अलावा 

दरअसल हीरा अलावा एक एमबीबीएस डॉक्टर है। एम्स में नौकरी करते थे लेकिन आदिवासी राजनीति के लिए नौकरी छोड़कर मध्यप्रदेश के आदिवासी क्षेत्रों में सक्रिय हो गए। कम समय में उन्होंने बड़ी ताकत का प्रदर्शन किया। तत्कालीन मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने हीरा अलावा को भाजपा ज्वाइन करने का निमंत्रण भेजा लेकिन हीरा अलावा ने अस्वीकार कर दिया और जब वह अपने जय आदिवासी युवा संगठन का कांग्रेस के साथ गठबंधन करने गए तो एक खास रणनीति के तहत गठबंधन तो दूर की बात उनके संगठन के नेताओं को टिकट तक नहीं दी है। हिरा अलावा को टिकट दिया लेकिन कांग्रेस का। डॉक्टर हीरा अलावा को उम्मीद थी कि कांग्रेस की सरकार बनी तो उन्हें मंत्री बनाया जाएगा परंतु कमलनाथ सरकार में उनकी कोई पूछ परख नहीं है। बस इसी बात से डॉक्टर नाराज हैं और कमलनाथ सरकार को तनाव देने का कोई मौका नहीं छोड़ते।