Loading...

सरकारी अस्पताल में काम बंद, गार्ड की पिटाई को लेकर विरोध | INDORE NEWS

इंदौर। पीसी सेठी अस्पताल (PC Sethi Hospital) में रविवार रात वॉर्ड में प्रवेश नहीं देने की बात पर विवाद हो गया। नाराज परिजन ने तोड़फोड़ कर दी। गार्ड ने रोकने की कोशिश की तो उसे इतना पीटा कि वह लहुलुहान हो गया और उसे 25 टांके आए। इसके विरोध में सोमवार को पीसी सेठी अस्पताल में डॉक्टरों व स्टाफ ने काम बंद कर दिया। 

मप्र चिकित्सा अधिकारी संघ (MP Medical Officers Association) का कहना है कि शहर के किसी सरकारी अस्पताल में काम नहीं किया जाएगा। आए-दिन परिजन अभद्र व्यवहार कर स्टाफ के साथ मारपीट करते हैं। पीसी सेठी अस्पताल में सोनू उर्फ सोनम (Sonu aka Sonam) को प्रसूति के लिए भर्ती किया गया था। रात 12 बजे परिवार के किसी पुरुष साथी ने प्रवेश की कोशिश की तो गार्ड जितेंद्र (Guard jitendra) ने रोक दिया। इस पर गार्ड से विवाद होने लगा, लेकिन गार्ड ने उन्हें दाखिल नहीं होने दिया। इस पर वे उग्र हो गए और गार्ड पर हमला कर गंभीर घायल कर दिया। लहूलुहान गार्ड को साथी बचाकर इलाज के लिए ले गए। घटना से आक्रोशित स्टाफ ने काम बंद कर दिया। जैसे ही इसकी सूचना शहर के अन्य सरकारी अस्पतालों तक पहुंची, उन्होंने भी काम बंद कर दिया। 

अस्पताल प्रभारी और चिकित्सा अधिकारी संघ के महासचिव डाॅ. माधव हसानी ने बताया कि किसी सरकारी अस्पताल में काम नहीं होगा। इस तरह काम करना मुश्किल हो गया है। विरोध स्वरूप सभी डॉक्टर और स्टाफ पीसी सेठी अस्पताल में जमा हो गए।