Loading...

पंकज सिकरवार हत्याकांड: आरोपी परमाल तोमर का शॉर्ट एनकाउंटर, गिरफ्तार | GWALIOR NEWS

ग्वालियर। पुलिस ने शॉर्ट एनकाउंटर में 30 हजार के इनामी बदमाश परमाल तोमर को गिरफ्तार किया है।बदमाश पर बीजेपी नेता पंकज सिकरवार की हत्या का आरोप था। पुलिस को सूचना मिली थी कि बदमाश जलालपुर गांव में अपने साथियों के साथ किसी वारदात को अंजाम देने की फिराक में है।   
इसके बाद हजीरा थाना पुलिस और क्राइम ब्रांच ने घेराबंदी कर बदमाश को पकड़ने की कोशिशि की इस दौरान बदमाश और पुलिस के बीच मुठभेड़ हुई। जिसमे परमाल सिंह पैर में गोली लगने के चलते घायल हो गया। वहीं उसके साथी मौके से फऱार हो गए। परमाल सिंह को इलाज के लिए जयारोग्य अस्पताल  में भर्ती कराया गया।फिलहाल पुलिस बदमाश के अन्य साथियों की तलाश में जुट गई है। शहर के प्रॉपर्टी डीलर पंकज सिकरवार की हत्या करके फरार हुआ तीस हजार का इनामी परमाल तोमर शॉर्ट शनिवार रविवार की रात को दबोच लिया। पुलिस ने जलालपुर के पास हुए शॉर्ट एनकाउंटर में परमाल को 2 गोलियां लगी। बाद में पुलिस ने उसे ट्रामा सेंटर भर्ती कराया है। 10 जुलाई को वैष्णोपुरम में पंकज सिकरवार की गोलियां मारकर हत्या कर दी गई थी।

इस मामले में पुलिस ने परमाल तोमर, राघवेंद्र तोमर, रमन चौहान, भाईजी चौहान, संजय तोमर, आशु तोमर, सोनू तोमर, राधेश्याम तोमर, धीरेंद्र राजावत, शैलेंद्र को नामजद किया था। राधेश्याम, धीरेंद्र और शैलेंद्र पहले ही गिरफ्तार हो गए थे। राघवेंद्र को पुलिस ने दो दिन पहले पकड़ लिया। इसके बाद पुलिस ने उसके चाचा तारे तोमर को भी पकड़ लिया। तारे का भी इस पूरी प्लानिंग में अहम रोल है। वारदात से पहले राघवेंद्र को लेकर वह खुद बांदा चला गया था। यहां अपने मददगारों की मदद से कट्टे के साथ पकड़ा गया और जेल में बंद हो गया।