व्यापमं घोटाला: पल्लव, हितेश और दिवाशीष के खिलाफ FIR | MP NEWS

भोपाल। मध्यप्रदेश पुलिस द्वारा व्यापमं घोटाले की जांच के लिये गठित पुलिस के विशेष कार्य बल :एसटीएफ: ने मेडिकल की प्रवेश परीक्षा देने वाले छह अभ्यर्थियों के खिलाफ पिछले दो दिनों में अनुचित साधनों के प्रयोग और फर्जी मूलनिवासी प्रमाण पत्र देने के आरोप में मामला दर्ज किया है। 

एसटीएफ प्रमुख एवं अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक अशोक अवस्थी ने यहां पत्रकार वार्ता में बताया, ‘‘एसटीएफ ने शनिवार को तीन और अभ्यर्थियों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। इसमें पल्लव अमृत फाले और हितेश अलावा व अन्य के खिलाफ वर्ष 2009 की पीएमटी परीक्षा में फोटो मिसमेच एवं अन्य प्रमाण के तहत अनुचित साधनों के इस्तेमाल तथा दिवाशीष विश्वास एवं अन्य के खिलाफ वर्ष 2007 की पीएमटी परीक्षा में फर्जी मूल निवासी प्रमाण पत्र देने के आरोप में मामला दर्ज किया गया है।’’ 

उन्होंने बताया कि एक दिन पहले शुक्रवार को तीन अभ्यर्थियों सीमा पटेल :पीएमटी वर्ष 2004: , विकास अग्रवाल :पीएमटी 2005: और सीताराम शर्मा :पीएमटी 2009: के खिलाफ भी पीएमटी परीक्षा में फर्जी मूल निवासी प्रमाण पत्र देने के आरोप में मामला दर्ज किया गया। उन्होंने कहा कि एसटीएफ को प्राप्त कुल 197 शिकायतों में से जांच के बाद अब तक छह अभ्यर्थियों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। इन लोगों द्वारा अनुचित साधनों का उपयोग तथा फर्जी मूल निवासी प्रमाण पत्र का उपयोग कर शासकीय मेडीकल कॉलेज में प्रवेश किया जाना पाया गया है।