योग्य वर की तलाश वाली लड़कियों को शिकार बनाता था, भोपाल में गिरफ्तार हुआ ठगों का रैकेट | BHOPAL NEWS
       
        Loading...    
   

योग्य वर की तलाश वाली लड़कियों को शिकार बनाता था, भोपाल में गिरफ्तार हुआ ठगों का रैकेट | BHOPAL NEWS

भोपाल। क्राइम ब्रांच भोपाल ने उत्तर प्रदेश से कैसे रैकेट को गिरफ्तार किया है जो केवल उन लड़कियों को अपना शिकार बनाता था जो योग्य वर की तलाश में होती थी। रैकेट का सरगना रमेश प्रजापति नाम का युवक बताया गया है। वह मात्र ग्रेजुएट है परंतु फर्राटेदार इंग्लिश बोलता है। 

क्राइम ब्रांच भोपाल ने यूपी के रमेश प्रजापति और सलीम को गिरफ्तार किया

एएसपी क्राइम ब्रांच निश्चल झारिया के अनुसार चिल्ड्रन हॉस्पिटल के संचालक से दो लाख रूपए ठगने के आरोप में उप्र. निवासी रमेश प्रजापति (45) और उसके साथी सलीम (40) को गिरफ्तार किया गया है। पूछताछ में रमेश ने शादी के नाम पर कई युवतियों से भी ठगी करना कबूल किया है। उसके गिरोह में एक दर्जन लोग काम करते हैं। स्नातक कर चुका रमेश फर्राटेदार अंग्रेजी बोलता है। पूछताछ में रमेश ने कई युवतियों के साथ भी धोखाधड़ी करना कबूल किया है। 

लड़की के प्रोफाइल के हिसाब से अपनी फेसबुक प्रोफाइल बनाता था

एक युवती का प्रोफाइल देखकर रमेश ने संबंधित युवती से फेसबुक के माध्यम से संपर्क किया। उसने युवती की चाहत के मुताबिक खुद का परिचय नेवी अफसर के रूप में दिया। युवती शादी के लिए राजी हो गई तो रमेश ने उसके शहर में पहुंचकर युवती से संपर्क किया। उसने फोन लगाकर युवती से कहा कि उसका एक्सीडेंट हो गया है, उसे एक लाख रुपए की फौरन जरूरत है। युवती ने संबंधित स्थान पर एक लाख रुपए की सहायता पहुंचा दी। रमेश रुपए लेकर गायब हो गया था। इस तरह करीब एक दर्जन युवतियों से वह ठगी कर चुका है। 

85 सिम की सर्चिंग से मिला सुराग

रमेश वारदात में फर्जी नाम पते से खरीदी सिम का इस्तेमाल करता था। काम होने पर सिम तोड़कर फेंक देता था। डॉ.मसूद की शिकायत की जांच के दौरान पता चला कि दो मोबाइल फोन में पांच सिम का इस्तेमाल किया गया है। आईएमआई नंबर की बारीकी से जांच करने पर पता चला कि इन मोबाइल में 80 सिम इस्तेमाल हो चुकी हैं। अस्पतालों में ठगी करने के लिए शातिर रमेश BSNL की फर्जी वेबसाइट तैयार करता था। पुलिस रमेश से सघन पूछताछ कर रही है।