BJP के Ex MLA सुरेंद्र नाथ सिंह के खिलाफ एक और मामला दर्ज | BHOPAL NEWS
       
        Loading...    
   

BJP के Ex MLA सुरेंद्र नाथ सिंह के खिलाफ एक और मामला दर्ज | BHOPAL NEWS

भोपाल। भारतीय जनता पार्टी के नेता सुरेंद्र नाथ सिंह के लिए वर्ष 2019 काफी तनाव बना रहा। इस एक साल में उनके खिलाफ कई मामले दर्ज हुए। जाते हुए साल, दिसंबर के महीने में भी एक मामला दर्ज हो गया। सुरेंद्र नाथ सिंह ने " शुद्ध के लिए युद्ध" अभियान के तहत सांची दूध के मुख्यालय पर विरोध प्रदर्शन किया था। प्रशासन ने मामला दर्ज कर लिया क्योंकि यह प्रदर्शन बिना अनुमति किया गया था।

हबीबगंज थाना पुलिस के अनुसार, बीजेपी के पूर्व विधायक सुरेन्द्र नाथ सिंह ने अपने समर्थकों के साथ शुक्रवार को भोपाल दुग्ध संघ (Bhopal Milk Union) के ऑफिस (office) का घेराव किया थाa बीजेपी के पूर्व विधायक का यह प्रदर्शन दूध में हुई मिलावट को लेकर था। भोपाल में बीजेपी पूर्व विधायक सुरेंद्रनाथ सिंह के साथ समर्थक सड़क पर उतरे और मिलावट का विरोध किया। प्रदर्शनकारियों ने दुग्ध संघ के जीएम का घेराव कर मिलावट पर लगाम लगाने की मांग की। 

खुलासे के बाद किया था प्रदर्शन

बैतूल से भोपाल दूध लेकर आ रहे सांची के एक टैंकर को रास्ते में रोककर कुछ लोग मिलावट कर रहे थे। आरोप है कि ये लोग टैंकर से शुद्ध दूध निकालकर उसमें यूरिया से बना दूध मिलाया जा रहा था। ये सिलसिला पिछले कई महीनों से जारी था। इसकी खबर मिलते ही भोपाल क्राइम ब्रांच की टीम ने वहां छापा मारा था। इस मामले में टैंकर संचालक योगेंद्र देव पांडे ने पूछताछ के दौरान मिलावट का इंटरस्टेट नेटवर्क का खुलासा किया था।

जांच के दौरान, मध्‍य प्रदेश पुलिस ने दूध में मिलावट करने वालों की दूसरे राज्यों के दुग्ध संघों से भी सांठगांठ का खुलासा किया था। उल्‍लेखनीय है कि मिलावट करने वाले योगेंद्र के करीब 100 से ज्यादा टैंकर दूसरे राज्यों के दुग्ध संघों से भी अनुबंधित हैं। आरोप है कि इस टैंकर की तरह, योगेंद्र के दूसरे टैंकरों में भी यूरिया से बना दूध भरकर सप्‍लाई किया जाता था। क्राइम ब्रांच के खुलासे के बाद सुरेंद्र नाथ सिंह ने यह धरना प्रदर्शन किया था।

धारा 144 के बीच प्रदर्शन

नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में चल रहे देशव्‍यापी विरोध प्रदर्शन को देखते हुए मध्यप्रदेश पुलिस ने सूबे के करीब 43 जिलों में धारा 144 लगाई थी। इसके अलावा, प्रशासन ने किसी भी प्रकार के धरना प्रदर्शन के आयोजन और उसमें किसी भी व्‍यक्ति के शामिल होने पर भी प्रतिबंध लगाया था। बावजूद इसके, पूर्व विधायक सुरेंद्र नाथ सिंह अपने समर्थकों के साथ सांची कार्यालय पहुंचे और वहां पर जमकर हंगामा किया। पुलिस ने इस दौरान, प्रदर्शनकारियों को धारा 144 की जानकारी देते हुए प्रदर्शन न करने की चेतावनी भी दी थी। आरोप है कि मध्‍य प्रदेश पुलिस की इस चेतावनी को नजरअंदाज कर बीजेपी के पूर्व विधायक सुरेंद्र नाथ सिंह ने अपने समर्थकों के साथ तय समय पर भोपाल दुग्ध संघ के ऑफिस पहुंच गए। उन्‍होंने न केवल अपने समर्थकों के साथ भोपाल दुग्‍ध संघ के दफ्तर का घेराव किया, बल्कि जहां जमकर हंगामा किया। उल्‍लेखनीय है कि पुलिस ने मौके पर प्रदर्शन का वीडियो भी बनाया था। इसी वीडियो के आधार पर सुरेंद्र सिंह के साथ उनके समर्थकों के खिलाफ भी एफआईआर दर्ज की है।