आरिफ मसूद का कॉलेज क्यों नहीं तोड़ती सरकार: माफिया के खिलाफ मिशन ढोंग है | BHOPAL NEWS
       
        Loading...    
   

आरिफ मसूद का कॉलेज क्यों नहीं तोड़ती सरकार: माफिया के खिलाफ मिशन ढोंग है | BHOPAL NEWS

भोपाल। मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री एवं भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष श्री शिवराज सिंह चौहान का कहना है कि मध्यप्रदेश में कमलनाथ सरकार द्वारा चलाए जा रहा माफिया के खिलाफ मिशन ढोंग है। यह सिर्फ बदला लेने और वसूली करने के लिए चलाया जा रहा है। यदि ऐसा नहीं है तो भोपाल तालाब के केचमेंट एरिया में बना कांग्रेस विधायक आरिफ मसूद का कॉलेज क्यों नहीं तोड़ती सरकार। 

कहां पर स्थित है आरिफ मसूद का कॉलेज 


कांग्रेस नेता श्री आरिफ मसूद अमन एजुकेशन सोसाइटी के सचिव हैं। श्री मसूद की यही सोसाइटी इंदिरा प्रियदर्शनी कॉलेज का संचालन करती है। इस कॉलेज की शुरुआत 1995 में हुई थी। यह कॉलेज वीआईपी रोड खानू गांव में स्थित है। शिवराज सिंह चौहान का दावा है कि जिस जमीन पर आरिफ मसूद ने कॉलेज पान रखा है वह जमीन भोपाल के बड़े तालाब का केचमेंट एरिया है। बता दें कि प्राकृतिक जल संरचनाओं (नदी, तालाब, झील, बावड़ी इत्यादि) के केचमेंट एरिया पर किसी भी प्रकार का निर्माण नहीं किया जा सकता। 

कौन है आरिफ मसूद 

आरिफ मसूद पूरी तरह भोपाली नेता हैं। यहीं पैदाइश औऱ फिर भोपाल के स्कूल कॉलेज में एजुकेशन हुआ। भोपाल के सोफिया कॉलेज के वो छात्र रहे और यहीं छात्र राजनीति से उन्होंने अपने राजनीतिक करियर की शुरुआत की। छात्र राजनीति के बाद आरिफ मसूद कांग्रेस में आए और स्थानीय कांग्रेस विधायक और मंत्री रहे रसूल अहमद सिद्दीकी से जुड़ गए। इसके बाद दिग्विजय सिंह का दामन पकड़ा। बीच में समाजवादी पार्टी में चले गए थे फिर वापस दिग्विजय सिंह की छत्रछाया में लौट आए। खुद को भोपाल का सबसे बड़ा मुस्लिम नेता स्थापित करना चाहते हैं। इसी कशमकश में भोपाल के दूसरे दिग्गज मुस्लिम नेता आरिफ अकील से अनबन हो जाती है। वर्तमान में आरिफ मसूद कांग्रेस पार्टी के विधायक है।