Loading...

2020 के पहले दिन जबलपुर से शुरू होंगी दो नई फ्लाइट| JABALPUR NEWS

जबलपुर। व्यावसायिक और एजुकेशन की दृष्टि से सबसे महत्वपूर्ण शहर पुणे के लिए अभी तक जबलपुर से सीधे कनेक्टिविटी नहीं है। रायपुर और प्रयाग के लिए भी सीधी फ्लाइट शुरू करने का सपना सपना बनकर रह गया है। यही कारण है कि इन शहरों में आने-जाने वाले लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है। पांच प्रदेशों से है कनेक्टिविटी- वर्तमान में डुमना एयरपोर्ट पांच राज्यों दिल्ली, महाराष्ट्र, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश और पश्चिम बंगाल से जुड़ा है।

यदि इंडिगो शहर से पुणे के लिए फ्लाइट शुरू करती है तो वहां पढऩे और नौकरी करने वाले शहरवासियों को काफी फायदा होगा। स्पाइस जेट एयरलाइंस ने जनवरी में जबलपुर-अहमदाबाद-जबलपुर रूट पर विमान सेवा शुरू की तो इंडिगो ने कोलकाता रूट पर अपना विमान उतारा। दोनों विमान शुरू होने से फ्लायर्स की संख्या में इजाफा हुआ। इसके बाद और शहरों को जोडऩे का दावा विमान कम्पनियों ने किया, लेकिन साल बीत जाने के बाद भी शहर से नई उड़ाने शुरू नहीं हो सकीं। पुणे व्यावसायिक, व्यापारिक और एजुकेशन की दृष्टि से महत्वपूर्ण शहर है। अधिकतर यात्री या तो ट्रेन से सफर करते हैं या नागपुर से पुणे के लिए फ्लाइट लेते हैैं।

प्रयाग महत्वपूर्ण धार्मिक स्थलों में शामिल हैं। प्रतिदिन सैकड़ो लोग इलाहाबाद आते-जाते हैं। रायपुर और जबलपुर के बीच लम्बे समय से सीधी फ्लाइट शुरू होने की बात कही जा रही है। शहर और रायपुर से रोजाना हजारों लोगों का आना-जाना होता है। वर्तमान में फ्लाइट एयर इंडिया, स्पाइस, जेट और इंडिगो