Loading...

सांसद प्रज्ञा सिंह के खिलाफ लोकसभा में विपक्ष का वॉकआउट, बयान पर बहस चाहते हैं विपक्षी | NATIONAL NEWS

नई दिल्ली। कोर्ट से हत्यारा घोषित नाथूराम गोडसे की भक्ति में लीन भाजपा के टिकट से सांसद एवं विश्व हिंदू परिषद के नेता प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने भारतीय जनता पार्टी को नई परेशानी में डाल दिया है। महाराष्ट्र चुनाव के बाद अब इस मामले पर भी भाजपा को देशभर में टारगेट किया जा रहा है। इधर नरेंद्र मोदी सरकार की मुश्किलें बढ़ गई हैं। विपक्ष ने लोकसभा में सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर के खिलाफ सदन से वाकआउट कर दिया। 

कांग्रेस एवं तृणमूल कांग्रेस ने प्रज्ञा सिंह के बयान पर चर्चा की मांग की थी

दरअसल, विपक्षी पार्टियों के नेता प्रज्ञा सिंह ठाकुर के बयान पर बहस करना चाहते थे। स्पीकर ने इसकी अनुमति नहीं दी। नाराज होकर विपक्षी पार्टियों ने वॉकआउट कर दिया। प्रज्ञा सिंह ठाकुर के नाथूराम गोडसे को देशभक्त बताने वाले बयान पर गुरुवार को लोकसभा में जमकर हंगामा हुआ। कांग्रेस और तृणमूल कांग्रेस ने इस पर स्थगन प्रस्ताव का नोटिस देते हुए चर्चा की मांग की। हालांकि, स्पीकर ओम बिड़ला ने कहा कि प्रज्ञा का बयान रिकॉर्ड से निकलवा दिया गया है, ऐसे में इस पर चर्चा नहीं की जा सकती। इस पर कांग्रेस सांसदों ने सदन से वॉकआउट कर दिया।

रक्षा मंत्री ने सदन में प्रज्ञा सिंह के बचाव की नाकाम कोशिश की

इससे पहले लोकसभा में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि गोडसे को देशभक्त मानने की सोच को ही हम खारिज करते हैं। कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि भाजपा सांसद प्रज्ञा ठाकुर ने उनकी पार्टी को आतंकी पार्टी कहा था। यह वही पार्टी है जिसके नेताओं ने देश की आजादी के लिए बलिदान दिए। यहां हो क्या रहा है। क्या सदन इस पर चुप बैठेगा। महात्मा गांधी के हत्यारे को देशभक्त कहा जा रहा है।