Loading...

भाजपा संगठन में पद के लिए उम्र का कोई बंधन नहीं: सांसद बीडी शर्मा | MP NEWS

भोपाल। पिछले दिनों खबर आई थी कि भारतीय जनता पार्टी में संगठन के पद के लिए आयु सीमा निर्धारित कर दी गई है परंतु भाजपा सांसद विष्णु दत्त शर्मा का कहना है कि भाजपा में पद के लिए कोई आयु सीमा नहीं है लेकिन संगठन चाहता है कि युवाओं को ज्यादा से ज्यादा मौका मिले। 

छिंदवाड़ा में पत्रकारों से चर्चा करते हुए खजुराहो सांसद और भाजपा के संगठन चुनाव प्रभारी बीडी शर्मा ने कहा कि हमारा प्रयास है कि मंडल अध्यक्ष की उम्र 35 से 40 और जिला अध्यक्ष की उम्र 50 से ज्यादा न हो। सांसद ने कहा कि शत प्रतिशत बूथ के चुनाव हो चुके हैं। हर बूथ पर बूथ समिति का गठन हो चुका है। जिसके बाद मंडल के चुनाव 9 और 10 नवंबर को होंगे। फिर अध्यक्ष पद का चुनाव होगा। श्री शर्मा ने कहा कि भाजपा ही एकमात्र ऐसा संगठन है जहां लोकतांत्रिक प्रक्रिया के तहत काम होता है। इस दौरान बीजेपी जिला अध्यक्ष नरेंद्र परमार, शेषराव यादव, विवेक बंटी साहू, महामंत्री शिव मालवी, हरिओम सोनी, दौलत सिंह ठाकुर पूर्व विधायक ताराचंद बावरिया और अनुज पाटकर मौजूद रहे। 

अनुशासित पार्टी है भाजपा

बीडी शर्मा ने कहा कि भाजपा एक अनुशासित पार्टी है। यहां अनुशासनहीनता बर्दाश्त नहीं की जा सकती, सोशल मीडिया पर भाजपा नेताओं द्वारा टिप्प्णी किए जाने केा लेकर श्री शर्मा ने कहा कि संगठन में सबकी बात सुनी जाती है। किसी भी प्रकार की समस्या यहां नहीं है। हम पार्टी स्तर पर सभी को साथ लेकर चलते हैं। भाजपा आज भी अनुशासित पार्टी है। रघुनंदन शर्मा द्वारा झाबुआ में हुई हार की समीक्षा की बात को लेकर कहा कि हार की समीक्षा हो इसमें क्या आपत्ति है।

सीएम को नहीं जनता की सुध

खजुराहो सांसद के मुताबिक छिंदवाड़ा मुख्यमंत्री का जिला है। ऐसे में भी उन्हें किसानों की सुध लेने की फुर्सत नहीं है। ऐसी संवेदनहीन सरकार हमने पहले कभी नहीं देखी। शिवराज सिंह चौहान जब मुख्यमंत्री थे तो बाढ़ होने के बाद भी जनता से मिलने निकल जाते हैं। अब विधायक और सीएम जनता के बीच नहीं जा रहे क्योंकि उन्होंने छल कर सरकार बनाई है। खजुराहो में तो किसानों से ये कह दिया गया कि सांसद से जाकर मुआवजा लो। किसी भी किसान को मुआवजा नहीं मिल रहा है। 30 फीसदी से कम नुकसान बताकर प्रकरण नहीं बनाए जा रहे हैं। 

अध्यक्ष के लिए होने लगी लॉबिंग

संगठन चुनाव के साथ ही जिलाध्यक्ष पद के लिए लॉबिंग शुरू हो गई है। इसके लिए पूर्व जिला अध्यक्ष रमेश पोफली, दौलत सिंह ठाकुर, ताराचंद बावरिया, शेषराव यादव, नत्थन शाह कवरेती, राजू नरोटे समेत कई नाम सामने आ रहे हैं। फिलहाल मंडल अध्यक्ष के चुनाव से ही समीकरण बन सकेंगे। जिले में 29 मंडल हैं, अध्यक्ष के चुनाव में इन्हीं मंडल अध्यक्ष की अहम भूमिका रहती है।