Loading...

डिप्टी रेंजर केशव शर्मा रिश्वत की पहली किश्त लेते गिरफ्तार | MP NEWS

मुरैना। लोकायुक्त की टीम ने शुक्रवार को अंबाह में पदस्थ डिप्टी रेंजर व एक अन्य कर्मचारी को 14 हजार रुपए की रिश्वत (bribe) लेते हुए रंगे हाथों पकड़ा। डिप्टी रेंजर (Deputy Ranger) फरियादी से उसके वाहन को छोड़ने के लिए 60 हजार की रिश्वत मांग रहा था। 14 हजार रुपए पहली किश्त के रूप में डिप्टी रेंजर को देने आया था और लोकायुक्त की टीम ने उसे रंगे हाथों दबोच लिया। डिप्टी रेंजर के साथ दैनिक वेतनभोगी कर्मचारी गजेंद्र भदौरिया (Gajendra Bhadauria, a daily salaried employee) को पकड़ा गया।   

भजपुरा पोरसा निवासी हाकिम सिंह (Hakim Singh) के लोडिंग वाहन को वन विभाग अंबाह के उप रेंज के डिप्टी रेंजर केशव प्रसाद शर्मा ने जनवरी माह में पकड़ा था। लोडिंग वाहन में 30 किलो बबूल की लकड़ी थी। जनवरी से लेकर अभी तक डिप्टी रेंजर हाकिम के लोडिंग वाहन को नहीं छोड़ रहा था। वह लोडिंग वाहन को छोड़ने के एवज में 60 हजार रुपए की रिश्वत मांग रहा था। जब डिप्टी रेंजर बिना रिश्वत दिए लोडिंग छोड़ने के लिए तैयार नहीं हुआ तो हाकिम सिंह लोकायुक्त ग्वालियर में शिकायत करने पहुंचा। लोकायुक्त ने हाकिम को रिकार्डर दिया और पैसे देने के लिए डील करने के लिए भेजा।

हाकिम ने डिप्टी रेंजर से पहली किश्त में 14 हजार रुपए देने की बात की। इसके बाद शुक्रवार को लोकायुक्त की टीम हाकिम को लेकर अंबाह पहुंची। इसके बाद टीम कार्यालय से बाहर खड़ी हो गई और हाकिम को पैसे देने के लिए अंदर भेजा। कार्यालय में डिप्टी रेंजर केशव प्रसाद व दैनिक वेतनभोगी कर्मचारी गजेंद्र भदौरिया थे। दोनों ने हाकिम से रुपए ले लिए। इसी दौरान लोकायुक्त की टीम आ गई और दोनों को रंगे हाथों पकड़ लिया। जब दोनों के हाथ धुलवाए गए तो उनके हाथ लाल हो गए। इसके बाद लोकायुक्त की टीम ने जब्ती व गिरफ्तारी की कार्रवाई की। कार्रवाई में लोकायुक्त टीम प्रभारी राघवेंद्र ऋषिस्वर, राघवेंद्र सिंह तोमर, कवींद्र सिंह चौहान, इंस्पेक्टर विनोद छारी, धनंजय पांडे, प्रधान आरक्षक एवं अंकेश शर्मा, हेमंत शर्मा, प्रमोद तोमर, बिसंभर सिंह, बलबीर सिंह आदि शामिल थे।