Loading...

INDORE NEWS: सरकारी स्कूलों में हर संडे लगेंगी कक्षाएं

इंदौर। रविवार को छुट्टी होने पर स्कूलों के छात्र अकसर खुश रहते हैं और उन्हें बेसब्री से सप्ताह के इस दिन का इंतजार रहता है, लेकिन पहली बार रविवार को सरकारी स्कूल खुले और वहां पर विद्यार्थियों की कक्षाएं भी लगीं।

दरअसल, आयुक्त लोक शिक्षण और जिला शिक्षा अधिकारी ने सरकारी स्कूलों में विद्यार्थियों का कोर्स पूरा करवाने और इसके रिविजन के लिए रोजाना सुबह 9 से 10 बजे या रविवार को अतिरिक्त कक्षाएं लगाने के निर्देश दिए हैं। यही वजह है कि रविवार को इंदौर जिले के चार से अधिक सरकारी हाई सेकंडरी स्कूलों ने कक्षाएं लगाईं। इनमें विद्यार्थियों के साथ शिक्षक भी पहुंचे। इन स्कूलों में कक्षा 10वीं के विद्यार्थियों की अंग्रेजी और गणित की कक्षाएं लगाई गईं। इन स्कूलों में जो कक्षाएं रविवार को लगीं, उसमें 10वीं में दर्ज अधिकांश विद्यार्थी उपस्थित थे।

स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा सरकारी हाई स्कूलों का परीक्षा परिणाम सुधारने की कवायद की जा रही है। इन स्कूलों के त्रैमासिक परीक्षा परिणाम के विश्लेषण के बाद जो विद्यार्थी डी ग्रेड यानी 45 प्रतिशत से कम, ई-1 ग्रेड यानी 33 से कम व 20 से ज्यादा और ई-2 यानी 20 से कम व शून्य तक श्रेणी में आए हैं, उन्हें परीक्षा में पास करवाने की मशक्कत की जा रही है। इन श्रेणियों में आए विद्यार्थी पास हो जाएं, इसके लिए स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा पिछले चार-पांच साल के प्रश्न पत्रों व ब्लू प्रिंट के विश्लेषण के मॉड्यूल तैयार कर दिए गए हैं। इस मॉड्यूल के आधार पर विद्यार्थियों को पढ़ाया जा रहा है, ताकि इस श्रेणी में आए विद्यार्थी 10वीं बोर्ड की वार्षिक परीक्षा में पास हो सकें।

इंदौर के इन स्कूलों में लगी कक्षाएं


हायर सेकंडरी स्कूल, पिगडंबर
हायर सेकंडरी स्कूल, अजनोद, सांवेर
हायर सेकंडरी स्कूल, सिरपुर
हायर सेकंडरी स्कूल, अहिल्याश्रम क्र.2
हायर सेकंडरी स्कूल, बजरंग नगर

इंदौर जिले के 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षा परिणाम और भी बेहतर आएं, इसके मद्देनजर सरकारी स्कूलों में रोजाना और रविवार को विशेष कक्षाओं का आयोजन किया जा रहा है। यह पहला मौका है जब सरकारी स्कूलों में रविवार को कक्षाएं लगाई जा रही हैं। यह प्रक्रिया बोर्ड परीक्षा होने तक सतत रूप से चलेगी।

नरेंद्र जैन, अतिरिक्त जिला परियोजना समन्वयक