Loading...

भाजपा विधायक रमेश मेंदोला के खिलाफ साधु संतों का प्रदर्शन, आमंत्रित करके अपमानित किया | INDORE NEWS

इंदौर। भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय के शागिर्द, विधानसभा क्षेत्र नंबर 2 से विधायक एवं भाजपा नेता रमेश मेंदोला पर आरोप है कि उन्होंने अपनी मां की पुण्यतिथि के अवसर पर साधु-संतों को आमंत्रित तो किया परंतु उन्हें दक्षिणा नहीं दी। इतना ही नहीं भजन संध्या के बाद साधु-संतों को बलपूर्वक बाहर खदेड़ दिया गया। साधु संतों ने रमेश मेंदोला के दरवाजे पर जमकर हंगामा किया।

साधु संतों के साथ बल प्रयोग किया

क्षेत्र क्रमांक दो से भाजपा विधायक रमेश मेंदोला की मां की मंगलवार को पुण्यतिथि थी। प्रतिवर्ष अनुसार इस वर्ष भी मेंदोला ने भजन संध्या का आयोजन किया था, जिसमें ख्यात भजन गायिका को बुलाया गया था। कार्यक्रम में बड़ी संख्या में साधु-संत भी आमंत्रित किए गए थे। नंदानगर स्थित गणेश मंदिर परिसर में कार्यक्रम के समापन के बाद साधु-संतों को खाली हाथ लौटाना शुरू कर दिया। इस बात पर साधु गुस्सा हो गए और उन्होंने हंगामा कर दिया। कुछ साधु-संत मेंदोला के घर के सामने ही जम गए। इसके बाद कुछ नेताओं ने समझाने की कोशिश की, लेकिन उनका गुस्सा इन नेताओं पर ही फूट पड़ा। साधुओं को आरोप है कि बिना दक्षिणा दिए बड़ी संख्या में साधुओं को लौटाया गया। इस दौरान साधु संतों के साथ हल्का बल प्रयोग भी किया गया। साधु-संतों का यह वीडिया अब वायरल हो गया है।

नर्मदा किनारे से बुला कर अपमानित किया

साधुओं ने आरोप लगाया कि कुछ लोगों को कंबल और दक्षिणा दी गई, लेकिन बाकियों को धक्का मारकर बाहर किया गया। किसी को कंबल बस दिया गया। हमें नर्मदा किनारे से बुलाया गया, अब हम वापस कैसे जाएंगे। दक्षिणा नहीं देना था तो किसी को नहीं देते। वहां पर खड़े लोगों ने हमें धक्का देकर भगाया, हम उनके नाम से यहां आए थे।