Loading...

कलेक्टर की छापामार कार्रवाई, दुम दबाकर डॉक्टर भागा | GWALIOR NEWS

ग्वालियर। शहर की ट्रैफिक व्यवस्था को दुरुस्त करने के लिए निरीक्षण पर निकले कलेक्टर अनुराग चौधरी की नजर जैसे ही एक झोलाछाप के क्लीनिक पर पड़ी तो वह पहुंचे और उन्होंने डॉटर की डिग्री मांगी, इसे देख डॉक्टर सकपका गयाऔर भागने की कोशिश की लेकिन उससे पहले ही सुरक्षा गार्ड ने उसे पकड़ लिया। 

घटना सोमवार की हजीरा इलाके की है। कलेक्टर श्री चौधरी हजीरे पर सफाई व्यवस्था और ट्रैफिक व्यवस्था का निरीक्षण करने पहुंचे थे इस बीच उनकी नजर झोलाछाप डॉक्टर (Fake doctor) राकेश विश्वास (Rakesh Vishwas) के क्लीनिक पर पड़ गई। कलेक्टर को सामने खड़ा देख डॉक्टर ने भागना चाहा लेकिन सुरक्षा गार्ड ने उसे पकडक़र पुलिस के हवाले कर दिया।

कलेक्टर की इस कार्रवाई से स्वास्थ्य विभाग में हडकंप मच गया है। ज्ञात होगा कि झोलाछाप डॉक्टर लम्बे समय से सक्रिय हैं। जिन पर स्वास्थ्य विभाग कार्रवाई करने से कतराता है। कहा तो यहां तक जाता है कि स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों की रजामंदी से ही झोलाछाप डॉक्टर खुलेआम अपने क्लीनिक चलाते हैं।