Loading...

खनिज अधिकारी का बेटा DON बनना चाहता है, पब्लिक प्लेस पर बेवजह हवाई फायर किए

भोपाल। संभागीय खनिज अधिकारी संजीव गडकरी का बेटा मोहित गडकरी यूं तो एक इंजीनियर है लेकिन अब वह डॉन बनना चाहता है। उज्जैन सेठी नगर इलाके में मोहित ने अचानक हवाई फायर डाले। मोहित लोगों में दहशत पैदा करना चाहता था। उसने पुलिस को बताया कि वह डॉन बनना चाहता है इसलिए इस तरह की वारदात की। बता दें कि हाल ही में ग्वालियर एक सब इंस्पेक्टर के बेटे को गिरफ्तार किया है। उसने अपना गिरोह बना लिया था और डकैती डालता था।

फिल्मी गुंडे की तरह ऐलान किया: मैं वापस आ गया हूं

पुलिस ने बताया कि भोपाल में पदस्थ संभागीय खनिज अधिकारी संजीव गडकरी का पूरा परिवार तबादले के बाद इंदौर शिफ्ट हो गया था। उनका बेटा मोहित गडकरी मैकेनिकल इंजीनियर का कोर्स करने के बाद इंदौर में प्राइवेट जॉब करता है। घटना मंगलवार शाम हुई थी। वह वारदात करने के लिए उज्जैन में स्थित सेठी नगर पहुंचा। वहां उसने पहले हवाई फायरिंग की। जिसकी वजह से वहां मौजूद लोगों में दहशत फैल गई। फायरिंग के बाद लोगों के बीच अफरा-तफरी भी मच गई थी। मोहित गदर मचाते हुए कहा रहा था कि तुम लोग मुझे शायद भूल गए हो। पर मैं वापस आ गया हूं। यह बोलकर मोहित घटना स्थल से भाग गया। 

उज्जैन का डॉन बनना चाहता है

उसके जाते ही लोगों ने इस बात की खबर पुलिस को दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने लोगों से लिए बयानों से पता चला की मोहित इंदौर का रहने वाला है। जिसकी गिरफ्तारी के लिए फौरन पुलिस बल रवाना कर दिया गया। पुलिस ने मोहित गडकरी के घर से उसे गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तारी के बाद पुलिस को मोहित के पास से देशी कट्टा और कारतूस बरामद कर लिए हैं। उसने पुलिस को दिए बयान में बताया कि उसका परिवार कुछ समय पहले सेठी नगर में ही रहता था। पिता के तबादले के बाद से वह इंदौर शिफ्ट हो गए थे। उसने बताया कि वह नखर गांव से कट्टा खरीदकर लाया था। उसने पुलिस को यह भी कहां की वह डॉन बनना चाहता है। इसलिए उसने ऐसा किया। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ आर्स एक्ट के तहत प्रकरण दर्ज कर लिया है।