Loading...

विधवा का यौन शोषण करता पुलिस अधिकारी पकड़ा, ग्रामीणों ने बंधक बनाकर बेरहमी से पीटा | CRIME NEWS

नई दिल्ली। बिहार के मधेपुरा से एक बड़ी खबर आ रही है। यहां गांव वालों ने एक पुलिस अधिकारी हो बहुत बेरहमी से पीटा। उसे बंधक बनाकर रखा। पुलिस को बुलाकर उसे गिरफ्तार करवा दिया इसके बाद भी ग्रामीणों का गुस्सा कम नहीं हुआ और लगातार हंगामा करते रहे। दरअसल, ग्रामीणों के गुस्से का शिकार हुआ असिस्टेंट सब इंस्पेक्टर एक विधवा महिला के साथ आपत्तिजनक स्थिति में पकड़ा गया था।

घटनाक्रम क्या है

जानकारी के मुताबिक, मामला चौसा थाना क्षेत्र का है। आरोपी एएसआई का नाम प्रभाकर राय है। वह फुलौत ओपी थाने में तैनात है। घटना की सूचना मिलने के बाद एसडीएम एसजेड हसन और एसडीपीओ सीपी यादव मौके पर पहुंच गए। दोनों अधिकारियों ने पूरे मामले की जानकारी लेने के बाद ग्रामीणों को एएसआई के खिलाफ केस दर्ज कर कानूनी कार्रवाई करने का आश्वासन दिया। अधिकारियों के आश्वासन के बाद ग्रामीणों ने एएसआई को छोड़ दिया। पुलिस एएसआई को हिरासत में लेकर थाने ले गई। एसडीएम एसजेड हसन ने बताया कि एएसआई को हिरासत में ले लिया गया है। ग्रामीणों की ओर से आवेदन मिला है। प्राथमिकी दर्ज कर एएसआई के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

थानेदार भी पीड़ित महिलाओं से गंदी बातें करता था

बता दें कि बीते सितम्बर महीने में चौसा थाने के थानेदार की रंगीन मिजाजी सामने आई थी। तब थानेदार धनेश्वर मंडल एक महिला को केस में मदद करने के नाम पर उसके साथ रात गुजारने की मांग कर दी थी। अपने आरोपों को सही साबित करने के लिए महिला ने शपथ पत्र बनवाकर मीडिया को थानेदार से बातचीत का ऑडियो उपलब्ध कराया था। करीब 120 मिनट के ऑडियो में दारोगा द्वारा 30 बार की गईं गन्दी बातें रिकॉर्ड थी। खबर चलने के बाद दारोगाजी लाइन हाजिर हुए थे।