Loading...

नाबालिग ननद रोज सब्जी में नमक डाल देती थी, विवाहिता ने फांसी लगा ली | BHOPAL NEWS

भोपाल। बागमुगालिया में फांसी लगाकर जान देने वाली नवविवाहिता के मामले में पुलिस ने दहेज हत्या का केस दर्ज किया है। जांच में खुलासा हुआ कि शादी के बाद से ही महिला को दहेज के लिए प्रताड़ित किया जाने लगा था। जब वह खाना बना लेती थी तो नाबालिग ननद उसमें जानबूझकर और नमक डाल देती थी, जिससे उसे डांट पड़ती थी।

एसडीओपी अनिल त्रिपाठी के मुताबिक 24 वर्षीय ज्योति अहिरवार ने एक नवंबर को फांसी लगाकर जान दे दी थी। दो साल पहले उसकी शादी बागमुगालिया निवासी प्यारेलाल अहिरवार से हुई थी। मामला नवविवाहिता का था, इसलिए एसडीओपी ने जांच की। ज्योति के परिजनों और साथ रहने वाले छोटे भाई के बयान लिए गए। इस दौरान सामने आया कि ज्योति को शादी के बाद से ही दहेज के लिए प्रताड़ित किया जाता था।

कई बार ऐसा भी हुआ कि ज्योति ने सब्जी बना ली और इसके बाद छिपकर ननद ने उसमें नमक डाल दिया। सब्जी में ज्यादा नमक होने से लोग उसे फटकारते थे। प्रताड़नाओं के कारण उसने फांसी लगा ली। पुलिस ने प्यारेलाल, ससुर गणेश, सास मन बाई और ननद के खिलाफ दहेज हत्या का केस दर्ज किया है।