Loading...

OMG! कॉलेज में नकल रोकने के नाम पर परीक्षार्थियों को "बिजूका" बना दिया

नई दिल्ली। कर्नाटक राज्य के एक स्कूल ने परीक्षाओं में नकल रोकने के लिए परीक्षार्थियों को "बिजूका" बना दिया। परीक्षार्थियों के सिर पर गत्ते का छोटा कार्टून बता दिया गया ताकि वह ना तो दाएं बाएं देख सके और ना ही कोई दूसरी गतिविधि। उत्तर भारत में "बिजूका" से तात्पर्य खेतों में खड़ा हुआ वह पुतला होता है जिसे देखकर पक्षी भाग जाते हैं। कुछ साहित्यकारों ने "बिजूका" से तात्पर्य " नमूना" या जिसे देख कर तमाशा बन जाए, भी निकाला है। 

हावेरी जिले में स्थित भगत प्री-यूनिवर्सिटी कॉलेज हावेरी के प्री-यूनिवर्सिटी कॉलेज में छात्रों को नकल करने से रोकने के नाम पर अजीबो-गरीब तरीका अपनाया गया। कॉलेज ने बच्चों के सिर पर कार्डबोर्ड (गत्ता) पहना दिया। जिसमें मुंह की तरफ वर्गाकार छेद किया गया था जिससे कि छात्र केवल सवाल को देखकर उसका उत्तर लिख सकें।

परीक्षा के दौरान नकल न करने का यह तरीका सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है। हालांकि कॉलेज के इस आइडिया से सभी हैरान हैं। परीक्षा हॉल में जिस महिला अध्यापक की ड्यूटी लगाई गई थी वह छात्रों के इस हाल को देखकर अपनी हंसी नहीं रोक पाई। वहीं छात्र भी परीक्षा के समय एक-दूसरे को देखकर हंसते हुए नजर आए। 

सतीश हेरूर नामक व्यक्ति ने फेसबुक पर गत्ता पहने छात्रों की तस्वीर को फेसबुक पर शेयर किया। इन तस्वीरों को बुधवार को लिया गया और उसी दिन शेयर भी किया गया। उन्होंने तस्वीरों को पोस्ट करते हुए लिखा, 'आज हमारे कॉलेज में मध्यावधि परीक्षा थी। यह हावेरी का भगत पीयू कॉलेज है।'