Loading...

ट्रांसपोर्ट हड़ताल: इंदौर से घबराई सरकार, कलेक्टरों को अलर्ट जारी | MP NEWS

भोपाल। पेट्रोल डीजल पर बढ़ाए गए वेट टैक्स वापसी की मांग को लेकर गए ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन के प्रतिनिधि मंडल को सीएम कमलनाथ ने इतराते हुए कह तो दिया था कि 'आप चाहें तो हड़ताल पर जा सकते हैं।' लेकिन इंदौर में पेट्रोल की किल्लत से सरकारी घबराहट साफ नजर आ रही है। अब पूरे प्रदेश के कलेक्टरों को अलर्ट जारी किया है कि आवश्यक सामग्रियों की आपूर्ति बाधित नहीं होनी चाहिए। इसके लिए जरूरी कदम उठाए जाएं। 

पेट्रोल, डीजल, रसोई गैस की सप्लाई बंद है

खाद्य, नागरिक आपूर्ति विभाग की प्रमुख सचिव नीलम शमी राव ने कहा कि डीलरों को पेट्रोल, डीजल और रसोई गैस की पर्याप्त उपलब्धता बनाए रखना जरूरी है। यदि ऐसा नहीं किया जाता है तो कानूनी कार्रवाई की जाएगी। डीजल के भाव में बढ़ोतरी को लेकर ट्रांसपोर्टर्स पांच अक्टूबर से हड़ताल पर हैं। इससे पेट्रोल, डीजल, रसोई गैस सहित अन्य जरूरी वस्तुओं के परिवहन में समस्या सामने आ रही है। इससे त्योहार के मौके पर आवश्यक चीजों की कमी न हो जाए, इसको लेकर परिवहन और खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण विभाग ने कलेक्टरों को सतर्कता बरतने के निर्देश दिए हैं।

स्टॉक खत्म हुआ तो डीलर के​ खिलाफ कार्रवाई होगी

प्रमुख सचिव राव ने कलेक्टरों से कहा कि आवश्यक वस्तु अधिनियम के तहत पेट्रोल, डीजल एवं गैस एजेंसी डीलरों के लिए आवश्यक वस्तुओं की पर्याप्त उपलब्धता बनाए रखने की बाध्यता है। यदि किसी डीलर द्वारा ऐसा नहीं किया जाता है तो उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी। ऑयल कंपनियों द्वारा एलपीजी और पेट्रोल उत्पादों की आपूर्ति लगातार की जा रही है।

महंगाई और कालाबाजी पर नियंत्रण रखें

उन्होंने कलेक्टरों से कहा कि कंपनियों को पर्याप्त सुरक्षा मुहैया करवाई जाए और आवश्यक वस्तुओं के मूल्यों पर भी निगरानी रखें। उधर, परिवहन विभाग के अवर सचिव आरएन चौहान ने सभी कलेक्टरों को पत्र लिखकर कहा कि ट्रांसपोर्टर्स की हड़ताल के कारण ट्रक और टैंकर का संचालन बाधित होने की आशंका है। आम आदमियों के उपभोग की सामग्रियों की पूर्ति में कोई बाधा न आए, इसके लिए सभी व्यवस्थाएं की जाएं।

त्योहारों को देखते हुए हड़ताल खत्म करें ट्रांसपोर्टर: तोमर

खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने ट्रक-ट्रांसपोर्टर्स यूनियन के पदाधिकारियों से अपील की है कि दीपावली के मद्देनजर जनहित में हड़ताल समाप्त करें। इससे आम उपभोक्ताओं को होने वाली परेशानियों से निजात मिल सकेगी। हड़ताल के कारण प्रदेश में आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति प्रभावित न हो, इसके लिए कदम उठाए जा रहे हैं। उन्होंने कलेक्टरों को डीजल, पेट्रोल और रसोई गैस की आपूर्ति तथा अन्य जरूरी वस्तुओं के मूल्यों पर नियंत्रण रखने के भी निर्देश दिए।