Loading...

भाजपा ने कहा शिवसेना को डिप्टी सीएम देंगे, शिवसेना बोली ‘सम्मान' से समझौता नहीं करेंगे | MAHARASHTRA CHUNAV

नई दिल्ली। महाराष्ट्र में सरकार गठन को लेकर बीजेपी और शिवसेना के बीच अब भी खींचतान जारी है। बीजेपी विधायक दल ने देवेंद्र फडणवीस को अपना नेता चुन लिया है। बीजेपी के सूत्र दावा कर रहे हैं कि महाराष्ट्र सरकार का ब्लू प्रिंट तैयार हो गया है। इसके मुताबिक महाराष्ट्र में बीजेपी-शिवसेना की साझा सरकार बनेगी और देवेंद्र फडणवीस पूरे 5 साल के लिए मुख्यमंत्री रहेंगे। वहीं, दो उपमुख्यमंत्री हो सकते हैं, जिनमें एक शिवसेना का होगा और एक बीजेपी का। 

सूत्रों का कहना है कि शिवसेना कुछ मलाईदार पदों की मांग कर सकती है। वो केंद्र में राज्य मंत्री का स्वतंत्र प्रभार भी मांग सकती है। हालांकि शिवसेना विधायक दल की बैठक के बाद सरकार गठन पर औपचारिक बात होगी। इस बीच, शिवसेना प्रवक्ता संजय राउत ने एक ट्वीट कर मीडिया में चल रही उन ख़बरों को ग़लत बताया है जिसमें ये कहा जा रहा है कि शिवसेना नरम पड़ गई है। उन्होंने ट्वीट किया, 'शिवसेना नरम पड़ गई है...पीछे हट गई है...पदों को समान रूप से बांटा जाए...इस मांग को छोड़ दिया है...ऐसा कहा जा रहा है। यह पब्लिक है सब जानती है, जो तय हुआ है उसी के अनुसार होगा।' आपको बता दें कि एक दिन पहले ही शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा था कि महाराष्ट्र के व्यापक हित में ‘सम्मान' से समझौता किए बगैर पार्टी के लिए भाजपा नीत गठबंधन में बने रहना जरुरी है।

राउत ने कहा था कि अगली सरकार बनाने में कोई जल्दबाजी नहीं है। उन्होंने उन कयासों को खारिज कर दिया कि अगर नए मंत्रिपरिषद के गठन में देरी होती है तो शिवसेना बंट सकती है। गौरतलब है कि उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली पार्टी बारी-बारी से मुख्यमंत्री पद और सत्ता बंटवारे पर 50:50 फॉर्मूले पर आक्रामक रूप से जोर दे रही है, लेकिन भाजपा ने इस मांग को खारिज कर दिया है। राउत ने कहा कि दोनों सहयोगियों के बीच 21 अक्टूबर को हुए विधानसभा चुनाव से पहले जो तय हुआ था उनकी पार्टी बस उसे ही लागू करवाना चाहती है।