Loading...

JABALPUR NEWS: प्लास्टिक फैक्ट्री के कर्मचारी पर दिनदहाड़े चाकु से हमला

जबलपुर। अपराधियों के बुलंद हौसलों का नमूना फिर एक बार घमापुर के राममंदिर के सामने देखने को मिला, जहां पर नकाबपोश बदमाशों ने मोटर साइकल सवार रमेश विश्वकर्मा (Ramesh Vishwakarma) पर चाकुओं से हमला कर दिया, हमले होते ही रमेश व उसके पीछे बैठी बबीता चौधरी (Babita Chaudhary) गिरकर घिसटते चले गए, हमला होते देख राह चलते लोगों में चीख पुकार मचगई, देखते ही देखते कई लोग एकत्र हो गए।   

जिनकी सूचना पर पहुंची पुलिस ने घायल रमेश को मेडिकल अस्पताल पहुंचाया, जहां पर चिकित्सकों ने हालत को देखते हुए भरती कर लिया। मेडिकल अस्पताल में रमेश विश्वकर्मा की हालत अत्यंत नाजुक बनी हुई है।इधर पुलिस ने 307 का प्रकरण दर्ज कर हमलावरों की सरगर्मी से तलाश शुरु कर दी है। पुलिस अधिकारियों की माने तो गोपी डेयरी अधारताल निवासी रमेश विश्वकर्मा उम्र 42 वर्ष सिविल लाइन छुई खदान स्थित प्लास्टिक कारखाना में काम करता रहा, जहां से रमेश मोटर साइकल में अपनी साथी बबीता चौधरी को बिठाकर घर के लिए रवाना हुआ, जब वह जीसीएफ राममंदिर के सामने से गुजर रहा था। इस दौरान पीछा करते हुए मोटर साइकल से तीन नकाबपोश आए, जिन्होने रमेश पर चाकु व राड से हमला कर दिया।

हमले में रमेश चौधरी के सिर, हाथ व पीठ में चोट आई और वह लडख़ड़ाते हुए मोटर साइकल से गिरकर घिसटता चला गया, साथ ही बबीता भी गिर गई। हमला होते देख राह चलते लोगों में चीख पुकार मच गई, यहां तक कि कई लोग भीड़ लगाकर खड़े हो गए, शाम का समय होने के कारण मौके पर जाम के हालात निर्मित हो गए। खबर मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने घायल रमेश को उपचार के लिए जिला अस्पताल पहुंचाया, जहां पर रमेश की हालत को देखते हुए प्राथमिक उपचार के बाद मेडिकल अस्पताल रेफर किया गया, जहां पर रमेश की हालत नाजुक बनी हुई है। मौके पर पहुंची पुलिस को बबीता चौधरी ने घटनाक्रम की जानकारी दी है, जिसपर पुलिस ने हमलावरों की हुलिए के आधार पर तलाश शुरु कर दी है।