Loading...

कैलाश विजयवर्गीय ने कहा: सरकार को जो उखाड़ना है उखाड़ ले | INDORE NEWS

इंदौर। भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय नगर निगम के पेंशन घोटाले की जांच की फाइल फिर से खोले जाने पर सरकार से नाराज हैं। उन्होंने मंगलवार को पत्रकारों से बात करते हुए इस मुद्दे पर पूछे गए सवाल पर जवाब दिया कि सरकार को जो करना है कर ले।

विजयादशमी पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के पथसंचलन में शामिल होने के बाद भाजपा महासचिव ने कमलनाथ सरकार को भ्रष्टाचार के मुद्दे पर भी घेरा। सीधे तौर पर मंत्रियों के भ्रष्टाचार में शामिल होने का आरोप लगाते हुए विजयवर्गीय ने कहा कि सरकार दो नंबर के पैसे से चल रही है। शराब, अवैध खनन और परिवहन विभाग से कांग्रेस नेता कमा रहे हैं। सरकार के राजस्व का पैसा जो राज्य के खजाने में जाना चाहिए, वह नेताओं के घर चला गया। इसीलिए प्रदेश में किसानों को मुआवजा भी नहीं बंट पा रहा है।

बौखला रहे हैं कैलाश

विजयवर्गीय के बयान के जवाब में कांग्रेस ने भी पलटवार किया है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष के मीडिया समन्वयक नरेंद्र सलूजा ने कहा कि विजयवर्गीय भाषा की मर्यादा भूल रहे हैं। सरकार ने 33 करोड़ के पेंशन घोटाले में सिर्फ जांच की बात ही की है। इस पर ही संयम खो रहे हैं। यह समझ से परे है। शिवराज सरकार ने इस घोटाले पर बने जांच आयोग की फाइल ही गुमवा दी थी। इसे ढूंढ लिया गया है। अब दूध का दूध और पानी का पानी होगा।