Loading...

सिपाही ने पत्नी को करवा चौथ की रात बेल्ट से पीटा, सरकारी क्वार्टर में बंधक बनाया | GWALIOR NEWS

ग्वालियर। करवाचौथ पर सुबह से भूखी-प्यासी 7 माह की गर्भवती पत्नी को सिपाही ने जमीन पर पटककर लात घूसों से पीटा। इसके बाद भी मन नहीं भरा तो बेल्ट से पीटा फिर सिर दीवार में दे मारा। घायल महिला रात भर घर में बंद रही। घटना हजीरा थाना शासकीय क्वार्टर की है। सुबह पीड़िता का भाई उसे लेकर सीधे महिला थाना पहुंचा। पर महिला थाना पुलिस की असंवेदनशीलता एक बार फिर सामने आई है। पीड़िता की सुनवाई नहीं की। इसके बाद पीड़िता ने हजीरा थाना में शिकायत की। 

हजीरा थाना पुलिस ने सिपाही के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। सिपाही कार के लिए 5 लाख रुपए की मांग कर रहा था जो पूरी नहीं होने पर मारपीट की। हजीरा थानाक्षेत्र स्थित शासकीय क्वार्टर यमुना ब्लॉक निवासी मुकेश कुशवाह (Police constable Mukesh Kushwaha) पुत्र शोकीराम कुशवाह पुलिस आरक्षक है। अभी वह हजीरा थाना में ही पदस्थ है। 22 अप्रैल 2015 को उसकी शादी भिंड मालनपुर निवासी प्रीति कुशवाह (Preeti Kushwaha) के साथ हुई थी। शादी में प्रीति के पिता ने 11 लाख रुपए नगद के अलावा हर वह सामान दिया था जो घर गृहस्थी में जरुरी होता है। पर शादी के बाद से ही ससुराल से प्रीति को परेशान करने बात आने लगी। अभी प्रीति 7 महीने की गर्भवती है। 

17 अक्टूबर करवाचौथ के दिन उसने भी अन्य महिलाओं की तरह पति की लम्बी उम्र के लिए व्रत रखा था। ऐसी अवस्था में भी सुबह से भूखी-प्यासी पति के आने का इंतजार कर रही थी, लेकिन रात 11 बजे तक वह घर नहीं आया। कॉल करने पर वह रात को घर पहुंचा तो प्रीति पर नाराज होते हुए उसकी मारपीट शुरू कर दी। सिपाही मुकेश ने पत्नी को जमीन पर पटककर लातों से पीटा। फिर दीवार में सिर दे मारा। उसके पेट में बच्चा है इस पर भी रहम नहीं किया। रात भर उसे कमरे में बंद रखा। सुबह भाई को बुलाकर पीड़िता अपने घर पहुंची और वहां से महिला थाना। महिला थाना ने एक नहीं सुनी। हजीरा थाना पहुंचकर शिकायत की। जिस पर रविवार को मामला दर्ज किया।

पहले भी पीटा था तब बच्चे को खोया था

प्रीति ने पुलिस को बताया कि इससे पहले भी मुकेश ने उसके साथ मारपीट की थी। करीब डेढ़ साल पहले की घटना है। तब वह दो माह की गर्भवती थी। उस समय उसके पेट में लात मारकर उसके बच्चे को मार दिया था।

कार के लिए चाहिए 5 लाख

मारपीट का कारण दहेज में 5 लाख रुपए की मांग है। पीड़िता ने बताया कि मुकेश कार के लिए 5 लाख रुपए मायके से लाने के लिए कह रहा था। जब रुपए नहीं दिए तो मारपीट करता था।