Loading...

सिंगरौली की लड़की का यूपी में 1 माह तक नशीली दवाएं खिलाकर रेप करवाया | MP NEWS

भोपाल। उत्तरप्रदेश के सोनभद्र में मध्य प्रदेश के सिंगरौली की रहने वाली एक नाबालिग लडकी का 1 माह तक रेप करवाया गया। वो अपने माता-पिता से नाराज होकर घर से निकली थी। किसी तरह राबर्ट्सगंज पहुंच गई। यहां सेक्स रैकेट चलाने वाली 3 महिलाओं ने उसे बंधक बनाया और होटलों में ग्राहकों के सामने परोसना शुरू कर दिया। बलात्कार से पहले उसे नशीली दवाएं खिलाई जातीं थीं। एक होटल से वो किसी तरह बचकर भाग निकलने में कामयाब हो गई। 

नशीला पदार्थ खिलाकर देह व्यापार करवाती थीं

मामला उत्तरप्रदेश के सोनभद्र का है। कोतवाली प्रभारी मिथिलेश मिश्रा ने बताया कि पड़ोसी प्रदेश मध्य प्रदेश के सिंगरौली जिला की एक नाबालिग करीब एक महीने पहले अपने मां-बाप की डांट से क्षुब्ध होकर घर से भाग निकली और राबर्ट्सगंज पहुंच गई। यहां स्टेशन पर उसे तीन महिलाएं मिलीं। उसे बरगला कर अपने घर चोपन थाना क्षेत्र के एक गांव में ले गईं। वहां एक अन्य महिला को सुपुर्द कर दिया। ये महिला उससे घर का काम करवाती थीं। उसके कहीं आने-जाने नहीं देती थी। श्री मिश्रा के अनुसार युवती का कहना है कि तीनों महिलाएं दो-तीन दिन पर उसे राबर्ट्सगंज के किसी होटल या घर में ले जाती थीं। वहां पर उसे नशीला पदार्थ खिलवाकर देह व्यापार करवाती थीं।

होटल से भागकर जान बचाई

महिलाओं के चंगुल से उसने कई बार भागने का प्रयास किया। 24 सितंबर को तीनों महिलाएं उसको लेकर राबर्ट्सगंज के एक होटल में गई थीं। यहां से वह किसी तरह भाग कर राबर्ट्सगंज रेलवे स्टेशन पहुंची। वहां किसी की मदद से उसने सौ नंबर पर फोन किया। मौके पर पहुंची पुलिस ने मामला जानने के बाद चाइल्ड हेल्प लाइन पर फोन कर दिया। वहां से आए लोगों के सुपुर्द कर दिया। हेल्प लाइन वाले उसे अपने साथ ले गए और बाल सुधार गृह में रखवाया। 

उधर, होटल से तीनों महिलाओं को भी पकड़ लिया गया। उन्हें महिला सुधार गृह भेज दिया गया। उसके बाद मामले की जांच चाइल्ड हेल्प लाइन की टीम ने की। जांच में मामला सही पाए जाने पर बुधवार को पीड़िता की तहरीर और हेल्प लाइन की जांच रिपोर्ट के आधार पर मामला दर्ज कर लिया गया। साथ ही तीनों महिलाओं को गिरफ्तार भी कर लिया गया।