Loading...

माता-पिता के झगड़े में डेढ़ माह के मासूम की मौत | MP NEWS

गुना। रुठियाई में गुरुवार की रात एक दंपती के बीच विवाद में उनके डेढ़ माह के बेटे की जान चली गई। विवाद के दौरान महिला ने अपनी गोद में रो रहे डेढ़ माह के बेटे को थप्पड़ मार दिया। जिस पर पति ने आपत्ति जताते हुए उसे चांटा मार दिया। गुस्से में महिला ने अपने ही मासूम बेटे को जमीन पर पटक दिया, तो सिर में गंभीर चोट लगने से मासूम की मौत हो गई। 

धरनावदा पुलिस के मुताबिक रुठियाई निवासी मजदूर गजराम कुशवाह (Gajram Kushwaha) और उसकी पत्नी विमला (Vimala Kushwaha) के बीच गुरुवार की रात करीब 10 बजे विवाद हो रहा था। विमला की गोद में उसका डेढ़ माह का छोटा बेटा भय्यू लेटा था। वह रोने लगा, तो विमला ने गुस्से में उसे थप्पड़ जड़ दिया। गजराम ने इस पर नाराजी जताते हुए विमला को चांटा मार दिया। गुस्से में विमला ने भय्यू को गोद से उठाकर जमीन पर पटक दिया। वह चीखकर रोने लगा। विमला ने उसे उठाया, तो कुछ देर बाद चुप हो गया। वे लोग समझे कि वह चुप होकर सो गया। 

शुक्रवार सुबह उन्होंने देखा, तो पता चला कि भय्यू की मौत हो चुकी है। जिस पर गजराम ने तत्काल रुठियाई पुलिस चौकी जाकर सूचना दी। पुलिस ने जिला अस्पताल में भय्यू का पीएम कराया। शार्ट पीएम रिपोर्ट में सिर में गंभीर चोट आने से मौत होना पाया गया है।

थाना प्रभारी नीरज बिरथरे के मुताबिक पति गजराम की रिपोर्ट पर विमला कुशवाह के खिलाफ भादंवि की धारा 304(जान बूझकर ऐसा कृत्य करना, जिससे किसी की मौत हो जाए) के तहत केस दर्ज किया है। उन्होंने बताया कि विमला को गिरफ्तार किया जाएगा।