Loading...

शिवराज सिंह के कारण मप्र में मूसलाधार बारिश हो रही है: कमलनाथ के मंत्री ने कहा | MP NEWS

भोपाल। मध्य प्रदेश में आधारहीन बयानबाजी होती रहतीं हैं। श्रावण मास की शुरूआत में जब बारिश नहीं हुई तो शिवराज सिंह ने कहा था कि कमलनाथ सरकार के कारण बारिश नहीं हो रही है। अब जबकि बारिश थमने का नाम नहीं ले रही तो मंत्री सुखदेव पांसे ने बयान दिया है कि इंद्रदेव शिवराज सिंह से नाराज हैं। इसलिए पूरे प्रदेश में मूसलाधार बारिश हो रही है। 

सरकारी कार्यक्रम में दिया बयान

सुखदेव पांसे अपनी विधान सभा मुलताई विधानसभा क्षेत्र के कामथ में दिव्यांग बच्चों को टॉय साइकल वितरण और मध्यान भोजन कार्यक्रम में शामिल हुए थे। हालांकि सरकारी कार्यक्रमों में इस तरह के बयान नहीं दिए जाने चाहिए परंतु मंत्री सुखदेव पांसे ने कहा शिवराज सिंह के बयानों से नाराज होकर इंद्रदेव राज्य में इतनी बारिश कर रहे हैं। सुखदेव पांसे मध्य प्रदेश में हो रही भारी बारिश के लिए शिवराज को दोषी ठहरा रहे है। 

शिवराज सिंह ने कहा था: कमलनाथ के कारण बारिश नहीं हो रही

कार्यक्रम में भाषण देते समय उन्होंने अतिवर्षा के लिए प्रदेश के मुख्य मंत्री को महिमा मंडित करना नही भूले। पांसे ने कहा कि बारिश नही हो रही थी तो लोग भगवान को याद कर रहे थे। कोई ताप्ती की पूजा कर रहा था, कोई डुबकी लगा रहा था तो कोई मेढ़क मेंढकी की शादी कर रहा था। पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने तो यह कह दिया कि जबसे कमलनाथ मुख्यमंत्री बने है तब से पानी नही आ रहा है। इसी बात पर इंद्र भगवान रुष्ठ हो गए। 

कमलनाथ पर लांछन लगा तो इंद्र भी नाराज हो गए: पांसे

कमलनाथ हिंदुस्तान के एक मात्र ऐसे मुख्यमंत्री है जो कि 9 बार के सांसद होने का गौरव प्राप्त है। ऐसे व्यक्ति पर यदि कोई लांछन लगाए की पानी नही बरस रहा है तो इंद्र देवता ने सुना कि यह गलत लोग अच्छे आदमी को बदनाम कर रहे है अगस्त के उसी दिन से जो पानी बार्स रहा है जो आज तक बंद नही हुआ है। यह कमलनाथ की अच्छाई है पुण्याई है और किस्मत है।

मध्य प्रदेश में बारिश ने तबाही मचा रखी है

बता दें कि मध्य प्रदेश में बारिश ने तबाही मचा रखी है। मध्यप्रदेश में आने वाले 24 घंटे लोगों को फिर परेशानी में डाल सकते हैं। मौसम विभाग ने आने वाले इन 24 घंटों के दौरान कई जिलों में रेड और ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। मौसम विभाग की माने तो मध्य प्रदेश में वेदर सिस्टम सक्रिय बने हुए हैं, जिसके चलते देवास ,सीहोर ,अलीराजपुर, धार ,इंदौर और श्योपुर में ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है. वहीं नीमच ,मंदसौर, रतलाम, राजगढ़ ,आगर, उज्जैन और झाबुआ में रेड अलर्ट जारी किया है।