Loading...

JABALPUR NEWS : पति को सम्मान दिलवाना ही मेरी आखिरी इच्छा है लिख युवती ने खाया जहर, मौत

जबलपुर। मझौली थाना क्षेत्र स्थित बस स्टैंड इंद्राना रोड पर रहने वाली महिला वंदना साहू (Vandana sahu) ने जहर का सेवन कर लिया। उसे गंभीरावस्था में इलाज के लिए नेशनल अस्पताल में भर्ती कराया गया है। अस्पताल में भर्ती महिला द्वारा पुलिस को दिए बयान व मृत्यु पूर्व लिखे पत्र में ससुराल वालों पर प्रताडना का आरोप लगाया गया है। महिला का कहना है कि उसने प्रेम विवाह (love marriage) किया था इससे ससुराल वाले नाखुश हैं और उसके पति की जान को भी खतरा है। 

पीडि़त महिला द्वारा सुसाइड नोट में लिखा गया है कि उसने अपनी मर्जी से संतोष साहू (Santosh Sahu) से 16 जून 2011 में  विवाह किया था, लेकिन पति के घर वाले इसके लिए राजी नही थे और बामुश्किल उसे ससुराल में एक कच्चे मकान में रहने दिया गया था। वहाँ भी उसे रहने नहीं दिया जाता था और दूसरी जाति की होने का ताना दिया जाता था। उसके साथ गाली-गलौज, मारपीट की जाती थी। उसके पति को झूठे मामले में बंद करवा दिया गया। इन यातनाओं से तंग आकर उसने जहरीली वस्तु का सेवन कर लिया। पति को सम्मान दिलवाना ही मेरी आखिरी इच्छा है लिख युवती ने खाया जहर। सुसाइड नोट में महिला ने लिखा है कि मेरी आखिरी इच्छा है कि मैं अपने पति को सम्मान दिलाऊँ। इसके लिए मैं जान दे रही हूँ। क्योंकि ससुराल वाले मुझे भगाना चाहते हैं और पति मुझे छोडने तैयार नहीं है।

पुलिस को दिए बयान में उसने सास, ससुर, जेठ, जेठानी, देवर आदि पर प्रताडऩा का आरोप लगाते हुए सजा दिलाए जाने की माँग की है। सुसाइड नोट के अंत में महिला ने ससुराल की प्रताडऩा से तंग आकर जान देने की बात लिखी है। सुसाइड नोट में लिखा है कि ससुराल वालों के कहने पर पुलिस ने पति संतोष के खिलाफ झूठा प्रकरण दर्ज कर जेल भेज दिया, लेकिन मेरी रिपोर्ट पर ससुराल वालों के दबाव में आकर पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की। मझौली पुलिस ने महिला के बयान दर्ज कर  मामले को  जाँच में लिया है।