Loading...

HERO ने भी कर्मचारियों को बाहर निकालना शुरू कर दिया

खुद को दुनिया की सबसे बड़ी टू-व्‍हीलर निर्माता कंपनी बताने वाली ऑटोमोबाइल कंपनी हीरो मोटोकॉर्प ने भी कर्मचारियों को बाहर निकालना शुरू कर दिया है। स्थाई कर्मचारियों के सामने स्‍वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना (वीआरएस) की पेशकश की है। कहा जा रहा है कि यह प्रक्रिया कर्मचारियों की उत्‍पादकता और दक्षता में सुधार लाने के लिए की जा रही है। 

40+ वाले कर्मचारियों को निकालने की योजना

यह स्‍वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना 28 सितंबर तक मान्‍य होगी। यह 40 वर्ष या इससे अधिक आयु के कर्मचारियों के लिए है। इस योजना में हीरो मोटोकॉर्प में निरंतर काम करते हुए न्‍यूनतम पांच साल की सेवा पूरी करने वाले कर्मचारी भी शामिल किए जाएंगे।  

कंपनी में सेवानिवृत्ति आयु 58 वर्ष है

वीआरएस के तहत दिए जाने वाले मुआवजा पैकेज में कंपनी की सेवा में कर्मचारी द्वारा बिताए गए काम के वर्षों की संख्‍या और सेवानिवृत्ति से पहले उसके शेष बचे सालों के आधार पर गणना के आधार पर एकमुश्‍त राशि का भुगतान किया जाएगा। कंपनी में सेवानिवृत्ति आयु 58 वर्ष है।

वीआरएस पैकेज में क्या क्या दे रही है कंपनी

वीआरएस में एकमुश्‍त राशि के अलावा मुआवजा पैकेज में अतिरिक्‍त उपहार, हीरों उत्‍पादों पर छूट, चिकित्‍सा लाभ, परिवर्तनशील वेतन, कंपनी द्वारा दी गई कारों और लैपटॉप पर छूट, कर्मचारियों के बच्‍चों के लिए हीरो में कैरियर के अवसर, पुनर्वास सहायता और कंपनी के साथ भविष्‍य में व्‍यापार के अवसर और अन्‍य सामान्‍य लाभ शामिल हैं।

हीरो ने वीआरएस को नए तरीके से पेश किया

हीरो मोटोकॉर्प के प्रवक्‍ता ने कहा कि कर्मचारियों के लिए यह सेवानिवृत्ति योजना को पूरी सहानुभूति और कल्‍याण की भावना के साथ तैयार किया गया है। इसमें वीआरएस लेने वालों के लिए कई तरह के लाभ शामिल किए गए हैं। कंपनी ने ऐसे समय में वीआरएस की पेशकश की है, जब ऑटो उद्योग अभूतपूर्व मंदी के दौर से गुजर रहा है।

20 साल की सबसे बड़ी मंदी

पिछले दो दशकों में पहली बार अगस्‍त में यात्री वाहनों और दुपहिया वाहनों सहित सभी क्षेत्रों में गिरावट के साथ कुल ऑटोमोबाइल बिक्री में सबसे खराब गिरावट देखी गई है। बाजार के सुस्‍त पड़ने के साथ, विनिर्माताओं को उत्‍पादन में कटौती और कुछ मामलों में कार्यबल में कमी करने जैसे कठोर कदम उठाने को मजबूत होना पड़ा है।