Loading...

आपूर्ति मंत्री का क्षेत्र: कबाड़ के गोदाम में गरीबों का चावल छुपा था | GWALIOR NEWS

ग्वालियर। शहर के मुरैना लिंक रोड किनारे स्थित रघुराज सिंह कुशवाहा के कबाड़ गोदाम से प्रशासन ने छापेमारी कर 325 क्विंटल पीडीएस का चावल पकड़ा है। पहले भी इस गोदाम से नकली सीमेंट और मवेशियों का आहार तैयार करते समय पकड़ा गया था। पुलिस का मानना है कि किराये के लालच में अपनी जगह को बिना रजामंदी के किसी को किराये पर देना संभव नहीं है।

बोरियां भी बदल दीं थीं ताकि पहचान ना हो

मुरैना लिंक रोड पर रेलवे ट्रैक के किनारे बने कबाड़ गोदाम के मालिक रघुराज सिंह कुशवाहा के गोदाम में लगातार एक साल से गड़बड़ियां पकड़ी जा रही हैं। जिला प्रशासन की टीम ने रघुराज सिंह कुशवाहा के गोदाम में छापेमारी की थी। जहां से 325 क्विंटल पीडीएस का चावल पकड़ा गया है, जिसे वेयर हाउस की बोरियों से निकालकर सफेद प्लास्टिक की बोरियों में भर दिया गया था।

इसी गोदाम में नकली सीमेंट का कारखाना मिला था

प्रशासन इस मामले में जांच कर रहा है, लेकिन पहले भी इसी गोदाम में नकली सीमेंट का कारखाना और मवेशियों के काम आने वाला उत्पाद भी तैयार करते पकड़ा गया था। जिससे प्रशासन को गोदाम मालिक रघुराज सिंह कुशवाहा पर शक है क्योंकि इस गोदाम में लगातार गड़बड़ियां मिल रही हैं।

रघुनाथ सिंह के खिलाफ रासुका की कार्रवाई होगी

प्रशासन का ये भी मानना है कि जांच के बाद यदि गोदाम मालिक की कालाबाजारियों के साथ कोई संलिप्तता साबित होती है तो रघुनाथ सिंह के खिलाफ रासुका के तहत कार्रवाई की जाएगी। खास बात ये है कि ब्लैक मार्केटिंग करने वालों के खिलाफ ठोस कार्रवाई का दावा करने वाले प्रदेश के खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर का विधानसभा क्षेत्र का ही मामला है।