Loading...

DAVV NEWS : MBA छात्राें ने छात्राओं और फैकल्टी का जीना मुश्किल किया

इंदौर। देवी अहिल्या यूनिवर्सिटी के स्कूल ऑफ कॉमर्स में एमबीए (फॉरेन ट्रेड- पांच साल) के छह छात्राें ने छात्राओं और फैकल्टी का जीना मुश्किल कर दिया। ये छात्र कई दिन से कॉलेज टाइम में छात्राओं के वॉशरूम में और गेट पर मिर्ची का स्प्रे डाल देते थे। इस स्प्रे के कारण छात्राओं को खांसी हाेने लगी। ये छात्र क्लास रूम में भी उपद्रव करते थे। इतना ही नहीं, प्रोफेसर विरोध करते तो ये छात्र गालियां देने लगे। आखिर में संस्थान प्रबंधन ने इन छात्रों को 15 दिन के लिए सस्पेंड कर दिया।   

बताया जाता है कि संपन्न घरों के ये छह छात्र विरोध करने वाले को डराते-परेशान करते थे। इन छात्रों की हरकतों का डर ऐसा था कि छात्राएं इनके सामने आते ही कैंपस से बाहर चली जाती थीं। शिकायत होने पर संस्थान प्रबंधन ने कुछ छात्रों के अभिभावकों को बुलाया था, लेकिन दो के ही अभिभावक पहुंचे। फिलहाल सभी को 15 दिन के लिए सस्पेंड किया गया है। इसके बाद भी इनमें सुधार नहीं आया तो और कड़ी कार्रवाई की जा सकती है। वहीं कुलपति प्रो. रेणु जैन ने इस मसले पर छात्र कल्याण संकाय के डीन से प्रोक्टोरियल बोर्ड की बैठक बुलाने को कहा है, जो संभवत: शनिवार को होगी। रोहन वैद्य, बलविंद्र सिंह रूपाना, यश दवारे, अंकुश सागोरे, राेहित चौहान, विक्रम दांगी (Rohan Vaidya, Balvindra Singh Rupana, Yash Davare, Ankush Sagore, Rahit Chauhan, Vikram Dangi) की शिकायतें लगातार मिल रही है इन पर कार्यवाही की जाएगी 

इन छह छात्रों की गंभीर शिकायतें लगातार मिल रही थीं। यह अनुशासनहीनता का मामला है। कुलपति को भी इससे अवगत करवाया। उन्होंने निर्देश दिए थे कि जरूरी कदम उठाना चाहिए। इस पर अनुशासन समिति ने इन छात्रों को 15 िदन के लिए सस्पेंड करने का निर्णय लिया। - प्रो. प्रीति सिंह, हेड स्कूल ऑफ कॉमर्स देवी अहिल्या विश्वविद्यालय

एक-दो दिन में बैठक कर इन छात्रों पर सख्त निर्णय लेंगे

प्रोक्टाेरियल बोर्ड में भी पूरा मामला आएगा। एक-दो दिन में उसकी बैठक होगी। मामले को पूरा समझने और प्रक्रिया के बाद छात्रों की गलती साबित होती है तो सख्त निर्णय लेंगे। फिलहाल इन छह छात्रों को 15 दिन के लिए सस्पेंड किया गया है। - प्रो. एलके त्रिपाठी, डीन छात्र कल्याण विभाग देवी अहिल्या विश्वविद्यालय