Loading...    
   


BHOPAL EXPRESS अब उत्कृष्ट ट्रेन बनेगी, इसके बाद रेवांचल एक्सप्रेस

भोपाल। भोपाल एक्सप्रेस 30 सितंबर तक उत्कृष्ट बन जाएगी। इसके बाद रेवांचल एक्सप्रेस को भी उत्कृष्ट बनाया जाएगा। ट्रेन को उत्कृष्ट बनाने से सुविधाओं में बड़ा बदलाव नहीं होगा, केवल कोच के रंग आसमानी नीला से हल्का पीला हो जाएगा। सीटें बदल जाएंगी, शौचालय अपग्रेड हो जाएंगे। 

भोपाल एक्सप्रेस के लिए 30 सितम्बर डेडलाइन

भोपाल एक्सप्रेस में अभी आईसीएफ डिजाइन के कोच लगे हैं। इन्हीं में से जो कोच ज्यादा चल चुके हैं उन्हें निशातपुरा कोच फैक्ट्री में रिपेयर किया जा रहा है। कोचों पर हल्का पीला व भूरा कलर किया जा रहा है। फटी सीटों को बदलने, शौचालयों को अपग्रेड करने, बोतल होल्डर लगाने, अतिरिक्त चार्जर पाइंट लगाने, आकर्षक शिनरियां लगाने, इलेक्ट्रॉनिक डिस्प्ले लगाने आदि काम किए जा रहे हैं। रेलवे के अधिकारियों ने बताया कि भोपाल एक्सप्रेस का पहला रैक (कोचों का समूह) 30 सितंबर के पहले तैयार किया जाएगा, क्योंकि 1 अक्टूबर व उसके आसपास ट्रेन को उत्कृष्ट बनाकर चलाने का लक्ष्य है। इसके बाद रेवांचल, इंटरसिटी एक्सप्रेस को भी उत्कृष्ट बनाया जाएगा।

इन ट्रेनों मेें पहले से लगे हैं उत्कृष्ट कोच

भोपाल से चलने वाली भोपाल-प्रतापगढ़, भोपाल सिंगरौली साप्ताहिक एक्सप्रेस, हबीबगंज से जबलपुर के बीच चलने वाली जनशताब्दी एक्सप्रेस को उत्कृष्ट ट्रेन बनाया जा चुका है। सबसे पहले भोपाल-प्रतापगढ़ एक्सप्रेस को उत्कृष्ट बनाया था। इसे करीब एक साल हो रहा है। इसमें लगे कोचों की स्थिति खस्ता होने लगी है। कोचों के रंग उड़ रहे हैं। एक साल में यह कोच कबाड़ हो जाएंगे। यही स्थिति भोपाल रेल मंडल से गुजरने वाली उन ट्रेनों के कोचों की है जिनमें उत्कृष्ट कोच लगे हैं। बता दें कि रेलवे उत्कृष्ट योजना के तहत कोचों को रिपेयर कर उनका रंग बदल रहा है।


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here