Loading...

भोपाल के 3 युवक दिल्ली में गिरफ्तार, 9.85 करोड़ का फर्जी डीडी मामला

भोपाल। दिल्ली पुलिस ने भोपाल के तीन युवक यश सक्सेना, देवेंद्र सिंह मालवीय और राजीव उपाध्याय को गिरफ्तार किया है। (Delhi Police has arrested three youth Yash Saxena, Devendra Singh Malaviya and Rajeev Upadhyay, residents of Bhopal.) आरोप है कि ये तीनों 9.85 करोड़ रुपए का फर्जी डिमांड ड्राफ्ट लेकर बाराखंभा रोड स्थित पंजाब नेशनल बैंक की इंटरनेशनल ब्रांच पहुंचे थे। जांच की तो पता चला कि डीडी 43000 का है जो पहले ही कैश हो चुका है। 

नेपाल की एवरेस्ट बैंक का था डिमांड ड्राफ्ट

दिल्ली स्थित बाराखंभा थाने के एसएचओ प्रहलाद सिंह यादव के मुताबिक 12 सितंबर को बैंक की ब्रांच से जानकारी मिली कि कुछ लोग करोड़ों का एक फ़र्ज़ी डिमांड ड्राफ्ट लेकर पहुंचे हैं। पुलिस मौके पर पहुंची तो पता चला यह डिमांड ड्राफ्ट 9 करोड़ 85 लाख रुपये का है जो नेपाल की एवरेस्ट बैंक का है। इस बैंक का दफ्तर केजी मार्ग पर है। वहां से ड्राफ्ट 20 अगस्त 2019 को जारी हुआ है।

असली डिमांड ड्राफ्ट 43000 हज़ार का था

दरअसल बैंक वालों को इसीलिए शक हुआ क्योंकि डीडी की रकम बहुत ज्यादा थी। शक के आधार पर एवरेस्ट बैंक से चेक किया गया तो पता चला कि इस नम्बर का असली डिमांड ड्राफ्ट करीब 43000 हज़ार रुपये का है, जिसे जुलाई महीने में ही चेन्नई में कैश करा लिया गया था। यानी यह डीडी फ़र्ज़ी था।

भोपाल के राजेन्द्र सिंह परमार की तलाश

इसके बाद पुलिस ने तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस के मुताबिक इन्होंने भोपाल में कुछ लोगों का फर्जीवाड़ा कर करोड़ों का लोन भी कराया है। इस मामले में भोपाल के ही राजेन्द्र सिंह परमार की तलाश है जिसके एकाउंट में 9 करोड़ 85 लाख रुपये ट्रांसफर होना थे।