Loading...

ZOMATO मामला राजनीतिक हुआ, JABALPUR निवासी ग्राहक के खिलाफ पुलिस कार्रवाई होगी

जबलपुर। ZOMATO और जबलपुर निवासी ग्राहक पंडित अमित शुक्ला के बीच हुआ छोटा सा विवाद अब देश भर की सुर्खियों में आ गया है। यह मामला एक ग्राहक और सेवा प्रदाता कंपनी के बीच से निकलकर राजनीतिक हो गया है। सोशल मीडिया पर कई तरह की प्रतिक्रियाएं आ रहीं हैं। इधर जबलपुर पुलिस ने पूरे घटनाक्रम में संज्ञान लिया है। बताया जा रहा है कि ग्राहक के खिलाफ प्रतिबंधात्मक धाराओं 107/116 के तहत कार्रवाई की जाएगी। 

मामला क्या है

जबलपुर निवासी पंडित अमित शुक्ला ने ZOMATO ने खाना आर्डर किया। कंपनी ने जो डिलिवरी बॉय भेजा वो हिंदू नहीं था। अमित शुक्ला ने भोजन लेने से इंकार कर दिया। श्री शुक्ला का कहना था कि श्रावण मास चल रहा है, इसलिए ऐसा किया। अमित शुक्ला ने कंपनी से अपने पैसे वापस मांगे। कंपनी ने पैसे देने से इंकार कर दिया। अमित शुक्ला ने ZOMATO को टैग करते हुए एक ट्वीट किया और अपनी नाराजगी जाहिर की। ZOMATO ने जवाब में लिखा 'खाने का कोई धर्म नहीं होता बल्कि खाना खुद एक धर्म होता है।' इसके बाद यह मीडिया में तेजी से वायरल होता चला गया। यह भी पढ़ें: ZOMATO में फूड डिलीवरी कर रहा था, 10 हजार का इनामी फरार बदमाश

मुद्दा राजनीतिक बन गया

गुरूवार को यह मामला राजनीतिक मुद्दा बन गया। राष्ट्रीय स्तर से लेकर मध्य प्रदेश तक के तमाम नेता इस मामले में अपनी बात रख रहे हैं। स्वभाविक रूप से कांग्रेस हमलावर है। इस बहाने भाजपा पर हमला किया जा रहा है। जबलपुर के अमित शुक्ला की प्रोफाइल बताती है कि वो पीएम नरेंद्र मोदी से प्रभावित हैं। इसलिए भी यह मुद्दा राजनीति में आ गया। यह भी पढ़ें: ZOMATO से पनीर बटर मसाला मांगा था, बटर चिकन दे गया, 55 हजार का जुर्माना

अमित शुक्ला ने ट्वीटर अकाउंट ही रिमूव कर दिया

इधर तमाम प्रतिक्रियाओं से परेशान अमित शुक्ला ने अपना ट्वीटर अकाउंट ही रिमूव कर दिया है। वो ट्वीटर पर @NaMo_SARKAAR पर था। अब This account doesn’t exist बता रहा है। यह भी पढ़ें: नेशनल रेस्ट्रॉन्ट असोसिएशन ऑफ इंडिया (NRAI) ने भी की थी इन कंपनियों की शिकायत

सोशल मीडिया पर #Uninstall_Zomato और #BycottZomato भी चल रहा है 

ZOMATO को इससे फायदा हुआ या नहीं यह तो आने वाला वक्त ही बताएगा परंतु फिलहाल दूसरा वर्ग भी एक्टिव हुआ है ओर सोशल मीडिया पर #Uninstall_Zomato और #BycottZomato चल रहा है। इस हैशटेग के जरिए लोग ZOMATO के पुराने मामलों की याद दिला रहे हैं। कैसे ZOMATO का एक डिलिवरी बॉय रास्ते में खाना झूठा कर रहा है। ZOMATO की डिलिवरी में क्या मंगवाया था और क्या निकला।

Update:
Amit Singh,SP Jabalpur (MP): We have issued a notice, it will be served to Amit Shukla (Twitter user who cancelled food order over deliveryman’s religion). He'll be warned, if he tweets anything which is against ideals of Constitution, action will be taken; he is on surveillance.