रविवार को शिक्षकों का प्रशिक्षण गैरकानूनी और मानवाधिकार का हनन: कर्मचारी संघ @ SHIKSHA VIBHAG

भोपाल। मप्र तृतीय वर्ग शासकीय कर्मचारी संघ के प्रांतीय उपाध्यक्ष कन्हैयालाल लक्षकार ने कहा है कि शिक्षा विभाग में आये दिन प्रशिक्षण होत रहते हैं। प्रशिक्षण साप्ताहिक अवकाश "रविवार" को रखने से प्रदेश भर के शिक्षकों एवं प्रशिक्षण दाताओं में भारी नाराजगी व्याप्त है। 

शिक्षकों को भी अवकाश के दिन पारिवारिक एवं सामाजिक जिम्मेदारियां निभाने का अवसर मिलता है, वह भी प्रशिक्षण की भेंट चढ़ जाता है। साप्ताहिक अवकाश "रविवार" को कर्मचारियों/शिक्षकों को कर्तव्य पर उपस्थित होने हेतु बाध्य करना "श्रम कानूनों" का अलंग्घन एवं  "मानवधिकारों" का हनन है। 

मप्र तृतीय वर्ग शासकीय कर्मचारी संघ डॉ प्रभुराम चौधरी "स्कूल शिक्षा मंत्री"-मप्र शासन भोपाल एवं श्रीमती जयश्री कियावत "आयुक्त" लोक शिक्षण संचालन भोपाल से मांग करता है कि "आगे से विभाग में सख्त हिदायत देने का कष्ट करें कि शिक्षा विभाग में साप्ताहिक अवकाश रविवार को किसी प्रकार का प्रशिक्षण आयोजित न किया जावे।" 

इससे शिक्षकों में भारी आक्रोश व नाराजगी व्याप्त है जो चिंताजनक है, इसकी परिणति प्रदेश में कभी भी आंदोलन के रूप में हो सकती है ; जिसके लिए शासन-प्रशासन जवाबदार होंगे।