तहसीलदार के चेंबर में चौकीदार ने किया सुसाइड, परिजनों ने SDM, SDOP सहित कई अधिकारियों को बंधक बनाया | BHIND NEWS

गोहद/भिंड। तहसील कार्यालय में रात की ड्यूटी पर तैनात चौकीदार ने तहसीलदार ममता शाक्य (Tehsildar Mamta Shakya) के चेंबर में फांसी लगाकर आत्महत्या (SUCIDE) कर ली। सूचना पर कार्यालय पहुंचे एसडीएम डीके शर्मा, एसडीओपी परमाल मेहरा, (SDM DK Sharma, SDOP Parmal Mehra) तहसीलदार और अन्य अधिकारियों को परिजन ने बाहर से कुंदी लगाकर करीब 15 मिनट तक बंधक बनाए रखा। मौके पर पहुंचे गोहद टीआई रमेश कुमार शाक्य ने परिजन को समझाया तब उन्होंने गेट खोला। परिजन ने तहसील के बाबू के खिलाफ कायमी के लिए आवेदन दिया है। बाबू पर प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है।

गोहद के बड़ा मोहल्ला निवासी अरुण 45 पुत्र देवलाल बाथम (Arun son Devlal Batham) तहसील कार्यालय में चौकीदार हैं। पिछले कुछ माह से उनकी रात में ड्यूटी लगाई जा रही थी। वे शाम 6 बजे के बाद कार्यालय पहुंचते और रातभर रुकने के बाद सुबह 8 बजे तक घर पहुंच जाते थे। शनिवार को सुबह की शिफ्ट के चौकीदार अफजल खान तहसील कार्यालय पहुंचे तो बिजली जल रही थी। तहसीलदार चेंबर का गेट खुला हुआ था। चौकीदार खान चेंबर की ओर गए तो पंख से चौकीदार अरुण बाथम का शव फांसी पर लटका हुआ था।

इनका कहना है

चौकीदार की मौत की पुलिस पड़ताल कर रही है। मुझे तो आर्थिक तंगी नजर आती है। मालूम हुआ है कि करीब 8 माह पहले भी चौकीदार ने आत्महत्या करने की कोशिश की थी, लेकिन उसे बचा लिया गया था- डीके शर्मा, एसडीएम, गोहद

परिजन ने आरोप लगाते हुए आवेदन दिया है। आवेदन की जांच की जा रही है। चौकीदार की मौत पर मर्ग कायम कर पड़ताल कर रहे हैं, जो भी तथ्य सामने आएंगे उसके मुताबिक कार्रवाई की जाएगी- रमेश कुमार शाक्य, टीआई, थाना गोहद