Loading...

उन्नाव कांड में कमलनाथ की एंट्री, पीड़ित परिवार को मप्र बुलाया | MP NEWS

भोपाल। वैसे कमलनाथ इस तरह की राजनीति नहीं करते परंतु मुख्यमंत्री बनने के बाद राजनीति के तरीके भी बदल ही जाते हैं। उत्तरप्रदेश के उन्नाव कांड में सीएम कमलनाथ ने पीड़ित परिवार को मध्य प्रदेश में रहने के लिए बुलाया है। साथ ही आश्वासन दिया है कि मध्य प्रदेश सरकार उनकी ना केवल रक्षा करेगी बल्कि पीड़िता को अपनी बेटी की तरह पालेंगे। 

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने शुक्रवार को इस मसले को लेकर ट्वीट किया। उन्होंने उन्नाव रेप पीड़िता की मां से अपील की है कि अगर वह चाहें तो मध्य प्रदेश में आकर बस सकते हैं। मध्य प्रदेश सरकार उनके परिवार को सुरक्षा देगी। इतना ही नहीं कमलनाथ की तरफ से वादा किया गया है कि वह पीड़िता का बेहतर इलाज करवाएंगे और साथ ही साथ शिक्षा का भी पूरा दायित्व निभाएंगे। मध्य प्रदेश के सीएम ने ऐलान किया है कि केस के दिल्ली ट्रांसफर होने पर पीड़िता के परिवार की दिल्ली आने-जाने की व्यवस्था की जाएगी और पीड़िता का प्रदेश की बेटी की तरह ख्याल रखा जाएगा।

गौरतलब है कि उन्नाव रेप मामले में उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार पर कई तरह के आरोप लग रहे हैं क्योंकि पीड़िता के साथ रेप करने का आरोप भारतीय जनता पार्टी के ही विधायक कुलदीप सिंह सेंगर पर लगा है। ऐसे में विपक्ष का आरोप है कि योगी आदित्यनाथ की सरकार कोई एक्शन नहीं ले रही थी। विपक्ष ने बीजेपी पर आरोप लगाया कि उन्होंने कुलदीप सिंह सेंगर को भी लंबे समय तक पार्टी से नहीं निकाला था।

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ से पहले कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने भी सुप्रीम कोर्ट के फैसले की तारीफ की थी। प्रियंका गांधी की ओर से ट्वीट किया गया था कि सुप्रीम कोर्ट की ओर से उन्नाव मामले में जो फैसला दिया गया है वह यूपी में जंगलराज की सरकार की नाकामी पर एक तरह की मुहर है।

आपको बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने उन्नाव रेप केस से जुड़े सभी पांच केस को लखनऊ से दिल्ली ट्रांसफर कर दिया है। अब इन मामलों की सुनवाई रोज होगी और 45 दिन के अंदर इसका ट्रायल भी पूरा होगा। इतना ही नहीं, अदालत ने पीड़िता के साथ ही एक्सीडेंट की घटना की जांच के लिए भी सीबीआई को सात दिन का वक्त दिया है।