Loading...

करोड़पति क्लर्क संजय भागवानी के यहां लोकायुक्त का छापा, चोरी से खुला रहस्य | GWALIOR NEWS

ग्वालियर। भू अभिलेख विभाग में क्लर्क संजय भागवानी के यहां लोकायुक्त ने छापामार कार्रवाई की है। इस छापे के पीछे की कहानी बड़ी मजेदार है। संजय भागवानी ने रिपोर्ट लिखाई थी कि उनके यहां 4 लाख रुपए की चोरी हुई है। चोर पकड़ा गया। उसने बताया कि वो 2 करोड़ रुपए चुरा ले गया था। पुलिस ने डेढ़ करोड़ रुपए बरामद किए। बस यहीं से लोकायुक्त पीछे लग गया। अब लोकायुक्त पुलिस संजय भागवानी के यहां कालाधन और बेनामी संपत्तियां तलाश रही है। 

लोकायुक्त पुलिस ने आज अल सुबह लैंड रिकॉर्ड विभाग के बाबू संजय भागवानी के ठिकानों पर छापा मारा। भागवानी के 3 ठिकानों और उसके साले के घर एक साथ छापा मारा गया। लोकायुक्त पुलिस ने ये कार्रवाई संजय भागवानी के घर हुई चोरी के एक मामले में की। भागवानी के घर से एक साल पहले ढाई करोड़ रुपए चोरी हो गए थे। इसकी शिकायत उसने पड़ाव थाना में की थी। लेकिन भागवानी ने अपनी शिकायत में सिर्फ साढ़े चार लाख की चोरी बतायी थी। जब चोर पकड़ा गया तो उससे डेढ़ करोड़ रुपए बरामद हुए। उसके बाद संजय भागवानी ने उन पैसों पर अपना हक़ जताया था और कहा था कि ये पैसे उसके साले के हैं लेकिन संजय यह नहीं बता पाए थे कि उनके पास यह ढाई करोड़ रुपए कहां से आए।

पुलिस की राडार थे भागवानी

चोरी के उस ख़ुलासे के बाद भागवानी पुलिस की राडार पर आ गए थे। मामला लोकायुक्त पुलिस तक पहुंच गया। वो लगातार संजय भागवानी को वॉच कर रही थी। जैसे ही उसे पुख्ता जानकारी लगी उसने कोर्ट की शरण ली और वहां से संजय भागवानी के नाम पर सर्च वारंट लोकायुक्त पुलिस को मिल गया।

अल सुबह छापा

लोकायुक्त पुलिस ने आज सुबह संजय बागवानी के फूलबाग, द्वारकापुरी, गांधीनगर और उनके साले के घर पर छापा मार दिया। अब तक की कार्रवाई में लोकायुक्त पुलिस को संजय भागवानी के घर से कई संपत्तियों के दस्तावेज, बैंक लॉकर, कई बैंकों की पासबुक और सोने-चांदी के जेवरात मिले हैं। छापे की कार्रवाई जारी है। माना जा रहा है कि कार्रवाई शाम तक चलेगी और इस बीच बड़े खुलासे हो सकते हैं।