Loading...

JABALPUR NEWS : क्राइम ब्रांच आरक्षक सुसाइड केस का खुलासा: सत्या ड्रामा कर रही थी, राहुल ने सच मान लिया

जबलपुर। यादव कॉलोनी में किराए के मकान में रहने वाले क्राइम ब्रांच के सिपाही द्वारा गोली मारकर खुदकुशी करने के मामले में देर रात उस समय नया मोड़ आ गया, जब उसकी पत्नी ने भी जहर खाकर खुदकुशी की बात कही। सिपाही राहुल सेंगर ने तो मेडिकल अस्पताल पहुंचने के पहले ही दम तोड़ दिया था। राहुल की पत्नी सत्या उर्फ सत्यवती सेंगर द्वारा जहर खाने की सच्चाई निजी अस्पताल की रिपोर्ट से सामने आई, जिसमें कहा गया कि उसने जहर नहीं खाया था।  

पहले घरेलू विवाद के चलते राहुल द्वारा खुद को गोली मारने की थ्योरी सामने आई थी, लेकिन बाद में प्रेम त्रिकोण की बात सामने आने लगी। इस मामले में पति-पत्नी के बीच विवाद व जहर खाने का नाटक करने की वजह होने की बात कही जा रही है। इस मामले में यादव कॉलोनी क्षेत्र में राहुल सेंगर के मकान मालिक विवेक शुक्ला का कहना है कि वह रात करीब 12 बजे सो गया था। थोड़ी देर बाद ही उसे तेज आवाज सुनाई दी जैसे कि कोई भारी सामान पटका हो। उसके बाद ही राहुल की पत्नी सत्या ने दरवाजा खटखटाया और कहा कि भैया देखो क्या हो गया है। जल्दी से अस्पताल ले चलो। उसने राहुल के पहली मंजिल पर स्थित कमरे में जाकर देखा, तो वह खून से लथपथ था। उसे कार में बैठाकर वे मेडिकल अस्पताल पहुँचे, लेकिन रास्ते में ही उसने दम तोड़ दिया था। 

कार में रास्ते भर सत्या यही कहती रही कि किसी तरह से राहुल को बचा लो, वर्ना मैं भी जिंदा नहीं रहूंगी, लेकिन जब डॉक्टर ने राहुल को मृत घोषित किया, तो वह अर्धबेहोशी की स्थिति में आ गई। मुंह से शब्द नहीं निकल रहे थे। पुलिस अधिकारियों को खबर लग गई थी, कुछ घर पहुंच गए और कुछ मेडिकल अस्पताल पहुंच गए। रात एक बजे तक यह खबर पूरे पुलिस महकमे में आग की तरह फैल गई। इधर सत्या का कहना था कि उसने जहर खा लिया है, तो उसे  निजी अस्पताल में भर्ती करा दिया गया । 

ग्वालियर क्षेत्र के रहने वाले राहुल की शादी 5 साल पहले हुई थी। 27 साल के राहुल ने अपनी पत्नी को सब इंस्पेक्टर की परीक्षा की तैयारी कराई थी। पिछले साल सत्या लिखित परीक्षा में पास भी हो गई थी। ऊंची कूद में उसकी पैर की हड्डी टूटने के कारण उसका सिलेक्शन नहीं हो पाया था। इस बार भी उसकी तैयारी जारी थी। 

राहुल और उसकी पत्नी के बीच अक्सर झगड़ा होने की बात पुलिस ने भी बताई है। उनका कहना था कि राहुल इतना सज्जन था कि वह बड़ों के पैर छूकर हमेशा आशीर्वाद लेने में यकीन रखता था। वह सिगरेट, शराब से दूर ही रहता था। उसकी पत्नी सत्या भी ससुराल वालों की प्रिय थी। राहुल के पिता ने भी कहा कि उन्हें सत्या से कोई शिकायत नहीं है। वे भी यह नहीं बता पाए कि किस कारण से राहुल ने खुदकुशी की है। राहुल ने 2016 में अपनी बहन की शादी की थी और उसके लिए कर्ज भी लिया था। इसके कारण भी राहुल और सत्या में पैसे को लेकर झगड़ा होता था।  

राहुल के शव का पीएम कराने के बाद उसके परिजन राहुल के शव को लेकर दोपहर करीब 12 बजे ग्वालियर रवाना हो गए। वे साथ में राहुल की पत्नी को भी ले गए हैं।

इनका कहना है

राहुल द्वारा खुदकुशी करने के मामले में घरेलू विवाद का होना पाया जा रहा है। राहुल की पत्नी द्वारा जहर खाने की पुष्टि डॉक्टर ने नहीं की है। इस मामले की गहराई से जाँच की जा रही है।  
अमित सिंह, एसपी