Loading...

JABALPUR NEWS : रेत माफिया से वसूली करने वाले SDOP PATHAK एसपी कार्यालय में अटैच

जबलपुर। पाटन डिवीजन के एसडीओपी एसएन पाठक द्वारा दरबार लगाकर रेत माफिया से वसूली किए जाने के कई वीडियो वायरल होने के मामले में जाँच प्रतिवेदन भोपाल भेजा गया है। वहीं इस मामले को लेकर हड़कम्प मचने पर एसपी अमित सिंह ने आदेश जारी कर एसडीओपी को एसपी कार्यालय में अटैच कर दिया है। उनके स्थान पर बरगी सीएसपी रवि चौहान को पाटन एसडीओपी की अतिरिक्त जिम्मेदारी सौंपी गयी है।  ज्ञात हो कि पिछले दो दिनों से सोशल मीडिया पर जारी किए गये कई वीडियोज में पाटन एसडीओपी रेत माफिया से पैसे लेते हुए नजर आ रहे हैं। 

इन वीडियोज को लेकर राजधानी तक खलबली मच गयी थी।  वायरल हुए वीडियो में जिस कक्ष में एसडीओपी बैठे हैं वहाँ पर कुछ रेत माफिया के लोग भी जमा हैं जिनसे हर खेप का लेखा-जोखा माँगा जा रहा है और उसके बदले तय रकम वसूली जा रही है। वसूली की एंट्री एक डायरी में की जा रही है यह सब कुछ वायरल हुए वीडियो से उजागर होने के बाद एसपी जबलपुर द्वारा इस मामले की जाँच का जिम्मा एएसपी ग्रामीण को सौंपा गया और एक प्रतिवेदन मुख्यालय भेजा गया था। पुलिस मुख्यालय व गृह विभाग से अभी तक इस मामले में कोई आदेश जारी नहीं किए गये हैं लेकिन एसपी ने एक आदेश जारी कर एसडीओपी पाटन को हटाते हुए उन्हें एसपी कार्यालय अटैच कर दिया है।

सूत्रों के अनुसार वायरल वीडियो में एसडीओपी पाठक द्वारा एक डायरी में पूरा लेखा-जोखा किया जा रहा है। पुलिस अधिकारी उस डायरी को बरामद करने की जुगत में हैं, जिससे इस बात का पता लगाया जा सके कि रेत माफिया कौन हैं और कहाँ अवैध उत्खनन हो रहा है और अवैध रूप से रेत का परिवहन किसके द्वारा किया जा रहा है। 

एसडीओपी के वीडियो वायरल होने के मामले में एक प्रतिवेदन भोपाल भेजा गया है और स्थानीय स्तर पर एएसपी को जाँच सौंपी गयी है। जाँच प्रभावित न हो इसलिए एसडीओपी को ऑफिस अटैच करने के आदेश जारी किए गये हैं।  अमित सिंह, एसपी