Loading...

संविदा कर्मचारी संगठनों के साथ मुख्यमंत्री की मीटिंग का प्रतिवेदन | EMPLOYEE NEWS

भोपाल। मप्र संविदा कर्मचारी अधिकारी महासंघ के प्रदेश अध्यक्ष रमेश राठौर ने बताया कि आज प्रदेश के आला अधिकारियों के साथ प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ जी की बैठक मंत्रालय के सभा कक्ष मे संविदा कर्मचारियों के सबंध में ली गई जिसमें संविदा कर्मचारियों को हटाया नहीं जायेगा, उनको निरंतर रखा जायेगा, विभागों में जो रिक्त पद हैं उन पदों पर संविदा कर्मचारियों को नियमित किया जायेगा। 

जहां पर भी 5 जून 2018 की संविदा नीति के अनुसार 90 प्रतिशत का भुगतान नहीं हो रहा है वहां पर 90 प्रतिशत वेतन का भुगतान किया जाए। महिला बाल विकास विभाग में महिला संविदा पर्यवेक्षकों राखी के त्यौहार से पहले 90 प्रतिशत के मान से वेतन बढ़ा दिया जाए। जिन संविदा कर्मचारियों को सेवा से हटा दिया गया है उन संविदा कर्मचारियों को वापस लिया जाए। यदि कोई परियोजना बंद हो रही है तो उनके संविदा कर्मचारियों को दूसरी योजना में संविलयन किया जाए। किसी संविदा कर्मचारी को हटाना है तो उससे पहले जैसे नियिमत कर्मचारी के साथ व्यवहार किया जाता है। वैसा व्यवहार किया जाए। इस प्रकार के निर्देश माननीय मुख्यमंत्री कमलनाथ जी के द्वारा दिये गये तथा उनके आदेश भी एक दो दिन में जारी हो जायेंगें। 

म.प्र. संविदा कर्मचारी अधिकारी महासंघ के प्रदेश अध्यक्ष रमेश राठौर ने इन निर्णयों पर माननीय मुख्यमंत्री कमलनाथ जी का आभार मानते हुये कहा है कि इन सब निर्देशों के आदेश शीध्र जारी किये जायें जिससे संविदा कर्मचारियों का होने वाला शोषण बंद किया जा सके।