Loading...

शिवराज सिंह, विश्वास सारंग और ध्रुव नारायण की हत्या की सुपारी | BHOPAL NEWS

भोपाल। मध्य प्रदेश में भाजपा के सबसे लोकप्रिय नेता शिवराज सिंह चौहान, भोपाल के विधायक विश्वास सारंग एवं शेहला मसूद हत्याकांड से देश भर की सुर्खियों में आए ध्रुव नारायण सिंह की हत्या की सुपारी दी गइै है। भोपाल क्राइम ब्रांच ने 2 बदमाश हैदर अली और आरिफ को गिरफ्तार किया है। पुलिस का कहना है कि हैदर अली उसी नेटवर्क का हिस्सा है जिसने हत्या की सुपारी ली है हालांकि अपना दावा प्रमाणित करने पुलिस के पास कोई सबूत नहीं हैं। 

हैदर अली अपहरण के मामले में फरार चल रहा था

भोपाल की क्राइम ब्रांच पुलिस को इनपुट मिला था कि भाजपा नेताओं की हत्या की साजिश रची जा रही है। इनपुट पर काम किा तो शातिर बदमाश हैदर अली और उसका साथी आरिफ हाथ लगे। दोनों आरोपी पहले से ही हत्या, अपहरण सहित कई आपराधिक मामलों में नामजद हैं। हैदर अली, शहर के चूनाभट्टी थाने में दर्ज अपहरण के एक मामले में फरार चल रहा था। वो जहांगीराबाद इलाके में अपने साथी आरिफ के साथ बीजेपी नेताओं के संबंध में बातचीत कर रहा था।

नशे की हालत में साजिश रच रहे थे, मुखबिर ने सुन लिया

पुलिस ने हैदर अली पर शिवराज सिंह सहित पूर्व मंत्री विश्वास सारंग, पूर्व विधायक ध्रुव नारायण सिंह जैसे नेताओं की हत्या की साजिश रचने का आरोप लगाया है। डीआईजी इरशाद वली ने बताया कि इनपुट मिलने के बाद आरोपियों को पकड़ा गया। दोनों आरोपी नशे की हालत में बातचीत कर रहे थे... लेकिन हत्या की साजिश को लेकर कोई पुख्ता सबूत नहीं मिले हैं।

हैदर अली अवैध हथियारों की सप्लाई करता है

बदमाश हैदर अली और आरिफ का क्रिमिनल रिकॉर्ड है। हैदर अली ने सागर में मर्डर किया था। साथ ही उसके और आरिफ के खिलाफ भोपाल के कई थानों में अपहरण, आर्म्स एक्ट, मारपीट जैसे कई मामले दर्ज हैं। ये आरोपी अवैध हथियारों के धंधे में भी लिप्त हैं। हथियारों की सप्लाई का इनपुट भी क्राइम ब्रांच को मिला था। दोनों आरोपी नशे के आदि हैं और उन्होंने नशे के दौरान बीजेपी नेताओं के बारे में बातचीत की थी। 

हैदर अली डॉन बनना चाहता है

अभी तक की पूछताछ में पता चला है कि आरोपी हैदर अली बड़ा बदमाश बनने की कोशिश कर रहा है और इसी कोशिश में वो हत्या की सुपारी के साथ कई गोरखधंधों से जुड़ गया है। हैदर रायसेन का रहने वाला है। जांच एजेंसी यह पता लगाने की कोशिश कर रही है कि ऐसी साजिश रचने के पीछे आरोपी हैदर का क्या मकसद था। उसकी किस शूटर से बात हुई। हथियार सप्लाई के किस गिरोह से उसके तार जुड़े हैं।