Loading...

वन विभाग ग्वालियर के वन रक्षकों में खलबली मची, 38 लाख की रिकवरी निकली | EMPLOYEE NEWS

ग्वालियर। वन विभाग में पदस्थ वन रक्षकों में इस वक्त खलबली मची हुई है। क्योंकि उनके वेतन से 37 हजार रुपए से लेकर 1.22 लाख रुपए की रिकवरी होना है। यह आदेश वन संरक्षक (सीएफ) ओपी उचाड़िया जाते-जाते निकाल गए। आदेश सामने आते ही 47 वन रक्षकों के वेतन से रिकवरी होने से परिवार पर आर्थिक संकट आ सकता है। क्योंकि उनको मासिक वेतन 20 से 25 हजार रुपए मिलता है। 

दैनिक वेतन भोगी से वन रक्षक और सीधी भर्ती से वन रक्षक बने वन रक्षकों को पहले शासन ने ज्यादा वेतन दे दिया था। मप्र शासन के वित्त विभाग ने गलती को पकड़कर सभी वन मंडलाधिकारी को ऐसे कर्मचारियों की सूची तैयार कराकर अधिक भुगतान की वसूली करने का फरमान जारी किया था। यह आदेश आने के बाद सीएफ ने उस पर वन रक्षकों की सूची तैयार कराई। इसमें 50 वन रक्षकों के नाम सामने आए। इनमें वन रक्षकों से 37970 रुपए से लेकर अधिकतम 122570 रुपए की वसूली होना है। कुल मिलाकर सभी वन रक्षकों से 38 लाख 30 हजार 433 रुपए की वसूली की जाएगी। अगस्त के महीने में रक्षाबंधन सहित अन्य पर्वों के होने से वन रक्षकों को दिक्कत आ रही है। 

वन रक्षकों की सूची जिनसे वसूली होना है 

अनीता हिन्नारिया, अनिल व्यास, भुवनेश शर्मा, भूपेंद्र व्यास, भारत भूषण भार्गव, भूपेंद्र दत्त शर्मा, जितेंद्र सिंह परिहार, कृष्णराज सिंह राठौर, बृजमोहन चिड़ार, धर्मेंद्र सिंह यादव,लक्ष्मणदास कड़ा, लोटन सिंह रजक, महेंद्र प्रताप सिंह,लक्ष्मीनारायण शर्मा, कुंज बिहारी श्रीवास्तव, केशव दत्त, मनीष शर्मा, निशांत प्रकाश पाल, नीरज कुमार लचौरिया, नितिन प्रकाश पाल, मुकेश कुमार शर्मा, महेश कुमार, मुरारीलाल बाजौरिया, प्रदीप कुमार श्रीवास्तव, पिंकी करगैया, पवन दुबे, पानसिंह धाकड़,पंकज सुमन,प्रदीप जादौन, रामरूप सिंह परिहार, राजवेंद्र सिंह कौरव, राजेश्वरी भदौरिया, राजीव कुमार कमल, रामकरन पाल, रविशंकर शर्मा, रामअवतार शर्मा, राजकुमार दांगी, राजेंद्र कुमार शर्मा, रावेंद्र प्रसाद तिवारी, सतीश पाठक, श्यामसुंदर अग्रवाल, सहदेव शर्मा, शशि लचौरिया, सतीश सविता, साहब सिंह, सुभाष चंद्र श्रीवास्तव, शैलेंद्र कुमार जयंत, सुमन कोठारी।