Loading...

ऋतुराज ने प्यार नहीं प्रॉपर्टी के लिए मेरी बेटी से शादी की है: पवन अग्रवाल | BHOPAL NEWS

भोपाल। प्रयागराज (इलाहाबाद) की दीक्षा अग्रवाल और भोपाल के ऋतुराज सिंह राजपूत की लव मैरिज का मामला सुलझने के बजाए उलझता जा रहा है। रविवार को दीक्षा के पिता पवन अग्रवाल की शिकायत पर थाना सिविल लाइन, इलाहाबाद में ऋतुराज सिंह, उनके पिता बीके राजपूत और मां राजूदेवी सिंह के खिलाफ अपहरण और जान से मारने की धमकी समेत विभिन्न धाराओं में एफआईआर दर्ज की है। इधर, बीके राजपूत और उनकी पत्नी के साथ दीक्षा के परिजनों द्वारा घर में घुसकर की अभद्रता और जान से मारने की धमकी देने का आवेदन पुलिस ने बमुश्किल लिया है।

दीक्षा के नाम करोड़ों की प्रॉपर्टी है

पवन अग्रवाल द्वारा दर्ज कराई गई एफआईआर में यह बताया कि उनकी बेटी दीक्षा के नाम करोड़ों की संपत्ति है। पिछले कुछ दिनों से वह परेशान थी। पूछने पर वह कुछ नहीं बताती थी। दीक्षा 5 जुलाई को सुबह 10.30 बजे बाजार के लिए निकली थी। दोपहर तक वापस नहीं आई तो उसकी तलाश की गई। तभी पता चला कि राजहर्ष कॉलोनी निवासी ऋतुराज मेरी बेटी को बहला फुसलाकर अपहरण करके ले गया है। वह उसकी करोड़ों रुपए की संपत्ति हड़पना चाहता है।

30 लाख के अभूषण और 2 लाख रुपए नगद लेकर गई है दीक्षा

बेटी घर में रखे 30 लाख रुपए के जेवर और दो लाख रुपए नगदी अपने साथ लेकर गई है। बेटी को भगाने में ऋतुराज के साथ उसके पिता बीके राजपूत और मां राजूदेवी का भी हाथ है। दीक्षा का मोबाइल भी स्विच ऑफ आ रहा है। 

ऋतुराज के पिता ने हत्या की धमकी दी है

एफआईआर में बताया कि 10 जुलाई को भोपाल स्थित ऋतुराज के घर पहुंचे और बेटी से मिलाने का आग्रह किया, तो उन्होंने मना कर दिया। आरोप है कि बीके राजपूत ने उन्हें धमकी दी थी कि यदि कहीं कोई शिकायत की तो बेटी की हत्या करवाकर लाश गायब कर देंगे। पवन अग्रवाल ने 13 जुलाई को एसएसपी प्रयागराज को आवेदन दिया था। इसके  बाद रविवार को पुलिस ने ऋतुराज, बीके राजपूत और राजूदेवी के खिलाफ आईपीसी की धारा 363, 366, 504, 506 में एफआईआर दर्ज की है। जबकि इसके पहले दीक्षा द्वारा उप्र और मप्र पुलिस के महानिदेशक को ऋतुराज सिंह से की गई शादी का सर्टिफिकेट समेत अन्य दस्तावेज भेजे हैं।

ऋतुराज और दीक्षा कहां हैं, हमें नहीं पता: बीके सिंह राजपूत

ऋतुराज के पिता बीके सिंह राजपूत की शिकायत पर पुलिस कार्रवाई नहीं कर रही है। रविवार की सुबह कोलार थाने में उन्होंने आवेदन दिया है कि उनके बेटे ऋतुराज सिंह ने दीक्षा से 5 जुलाई 2019 को भोपाल में प्रेम विवाह किया है। 7 जुलाई को दीक्षा के दादा मुरारीलाल अग्रवाल, पिता पवन अग्रवाल, मनोज अग्रवाल, सीमा अग्रवाल एवं दो अन्य लोग जबरदस्ती उनके घर में घुसकर अभद्रता और जान से मारने की धमकी दी। हम पर ऋतुराज और दीक्षा से मिलाने का दबाव बनाया जा रहा है, जबकि बेटे और बहू के संबंध में मेरे पास कोई जानकारी नहीं है।

20-30 लोग घर में घुस आए थे: बीके सिंह राजपूत

उन्हें भरोसा दिलाया गया था कि दोनों के संबंध में कोई जानकारी मिलती है तो तुरंत उससे अवगत कराया जाएगा। इसके बाद 13 जुलाई को पवन अग्रवाल के साथ 20-30 लोग उनके घर आए और अभद्रता करते हुए जबरदस्ती घर में घुसने का प्रयास करने लगे। जिससे मेरी पत्नी की तबीयत बिगड़ गई। उन्हें तत्काल आईसीयू में भर्ती करना पड़ा। इस दौरान सभी लोग जान से मारने की धमकी देकर भाग गए। राजपूत का कहना है कि उन्हें मानसिक एवं शारीरिक रूप से प्रताड़ित किया जा रहा है। उन्होंने पुलिस ने नियमानुसार कार्रवाई करने का अनुरोध किया है।