पुराने अतिथि शिक्षकों ने भर्ती प्रक्रिया को रद्द करने की मांग की | ATITHI SHIKSHAK

पटेरा-दमोह। पटेरा ब्लॉक के समस्त अतिथियों द्वारा मुख्यमंत्री के नाम एक ज्ञापन सौंपा गया। जिसमें कहा गया है पुराने अतिथियों को इस बार प्राथमिकता के नाम पर 25 नम्बर दिये जाने का आदेश मप्र शासन द्वारा दिया गया परन्तु उनको इन 25 अंको का कोई फायदा नही मिल पा रहा है क्योंकि जिसने पिछले साल मात्र 72 दिन ही काम किया था उनको भी 25 नम्बर का फायदा दिया गया। 

सरकार के इस कदम से पिछले 10 साल से काम करने वाले अतिथि शिक्षक कम परसेंट होने के कारण नए अतिथियों से बहुत पीछे हो गए हैं क्योंकि पहले के अतिथियों ने लगभग 10 साल पहले 12 वी और ग्रेजुएशन की थी तब उस समय परसेंटेज कम बनती थी और वर्तमान में 80 परसेंट वाले आवेदको द्वारा आवेदन किया गया है जिसके कारण पुराने अतिथि शिक्षक बाहर हो रहे हैं और जिसने 10 साल काम किया परन्तु पिछले साल काम नही किया उनको कोई भी नम्बर नही दिए गए हैं जिससे पुराने अतिथियों में भारी रोष व्याप्त है और उन्होनें पुराने अतिथियों को 10 अंक प्रति वर्ष के हिसाब से देने की मांग मुख्यमंत्री मप्र शासन से की है। 

बहुत से स्कूलों के प्राचार्य व एचएम द्वारा आवेदन लेने या पावती न देने की बात और आवेदकों की लिस्ट सार्वजनिक न करने की भी शिकायत की है और अतिथि शिक्षकों की नवीन भर्ती प्रक्रिया को रद्द करते हुए फिर ऑनलाइन आवेदन व चॉइस फिलिंग करवाने की भी मांग की है।