ओबीसी का 27 प्रतिशत आरक्षण 9वीं अनुसूची में डालने की मांग | MP NEWS

भोपाल। कांग्रेस सरकार ने ओबीसी आरक्षण 27 फीसदी कर दिया है। सरकार के इस फैसले से इस वर्ग की प्रतिभाओं को निष्चित रूप से आगे का मौका मिलेगा। ओबीसी के हित में लिए गए निर्णयों के प्रति सरकार का आभार जताने के लिए अपाक्स एवं पिछड़ा वर्ग संयुक्त मोर्चा द्वारा ओबीसी मंत्रियों, विधायकों एवं पूर्व जनप्रतिनिधियों का सम्मान समारोह आयोतिज किया गया। 

होटल इम्पीरियल सेब्रे में आयोजित इस समारोह में पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह समेत आधा दर्जन मंत्री और कई विधायक तथा पूर्व विधायक शामिल हुए। अपाक्स के प्रांताध्यक्ष भुवनेष कुमार पटेल, कांग्रेस नेत्री और पूर्व महापौर विभा पटेल, सहित संयुक्त मोर्चा के पदाधिकारियों ने अतिथियों का स्वायगत किया। समारोह में पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह, मंत्रीगण लाखन सिंह यादव, हर्ष यादव, प्रदीप जायसवाल, सुखदेव पांसे, पी.सी. शर्मा, जीतू पटवारी सहित एक दर्जन से अधिक वर्तमान विधायक और कई पूर्व विधायक शामिल हुए। 

इस अवसर पर पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने कहा कि ओबीसी वर्ग के कल्याण के लिए प्रदेष सरकार दृढ संकल्पित है। अन्य अतिथियों ने भी ओबीसी की समस्याओं और मांगों के निराकरण के लिए और भी कारगर तरीके से पहल करने की वकालत की। इस अवसर पर अपाक्स के प्रांताध्यक्ष भुवनेष कुमार पटेल ने कहा कि कमलनाथ सरकार से ओबीसी वर्ग को काफी उम्मीदें हैं, इस दिषा में सरकार ने जो पहल की है वह स्वागत योग्य है लेकिन अभी इस दिषा में और भी काफी कुछ किए जाने की जरूरत है। 

उन्होंने कहा कि सरकार की ओबीसी हितैषी योजनाओं को जन जन पहुंचाने के लिए प्रदेश व्यापी रथयात्रा निकाली जाएगी और इस जनजागरण अभियान को गति देने के लिए राजधानी में ओबीसी का एक बड़ा कार्यक्रम आयेजित किया जाएगा। इस अवसर पर पूर्व महापौर श्रीमती विभा पटेल ने 27 फीसदी ओबीसी आरक्षण बिल को इसी सत्र में 9वीं अनुसूची में डालते हुये पारित किए जाने पर जोर दिया। 

इसमें ओबीसी के लगभग 20-22 वर्तमान विधायक गण जिनमें प्रमुख सर्व श्री प्रद्युम्न सिंह लोधी, बैजनाथ कुषवाहा, सिद्धार्थ कुषवाहा, बाबू चंदेल तथा कई पूर्व विधायक गण टामलाल सहारे, देवेन्द्र पटेल, जीवन पटेल, शैलेन्द्र पटेल, राम किषोर दोगने आदि ने उपस्थित होकर संबोधन दिया। 

कार्यक्रम में पिछड़ा वर्ग समाज के गणमान्य लोगों में श्री बहादुर सिंह लोधी, दीपचंद यादव, राजेष वर्मा सोनी, पंजाब सिंह यादव, बाल कृष्ण गुप्ता, भानूप्रताप सिंह, वीरेन्द्र खोंगल, अवध नारायण नामदेव, बी.आर. विष्वकर्मा, जे.पी. धनोपिया अपाक्स की ओर से सर्व श्री दिनेष चैरासिया, महेष नीलकण्ठ, सुरेष पंथी, प्रभाकर पराते, महमूद सिद्धकी, महाप्रसाद गुर्जर, मो. शाहीद, बद्रीप्रसाद कौरव, राजकुमार राजपूत, मिथलेष यादव, सुरेष विष्वकर्मा, राकेष कुमार जायसवाल, एन.के. साहू, महेष अहिरवार, महेष सिवहरे, कृष्णपाल सिंह यादव, षिवराज सिंह दांगी, देवी सिंह दांगी, हरि सिंह गुर्जर, प्रकाष मालवीय, कृष्णा बैरागी, श्रीमती निर्मला पाटील, निर्जा विष्वकर्मा आदि शामिल हुए। 

कार्यक्रम का संचालन श्रीमती विभा पटेल, पूर्व महापौर एवं सहयोगी के रूप में  श्री सी.एस.यादव ने किया। इसके साथ ही श्री राजकुमार पटेल पूर्व मंत्री म.प्र. द्वारा पिछडे़ वर्गाे की मांगी की आवश्यकता का प्रतिपादन मंच से किया।