GWALIOR NEWS : ससुराल वालों से तंग आकर पहले पत्नी की हत्या की, इसके बाद खुद फांसी लगा ली

ग्वालियर। एक ऑटो चालक और उसकी पत्नी का शव घर में ही मिला है। ऑटो चालक फांसी के फंदे पर लटका हुआ था, जबकि पत्नी जमीन पर पड़ी थी और उसके मुंह-नाक से खून बह रहा था। जिस स्थिति में दोनों के शव मिले हैं, उससे आशंका जताई जा रही है कि पहले ऑटो चालक ने पत्नी की हत्या की, इसके बाद खुद फांसी लगा ली। 5 महीने पहले ही दोनों की शादी हुई थी। 

शादी के बाद से ही दोनों के बीच अक्सर झगड़ा होता था। तीन दिन पहले भी दोनों में झगड़ा हुआ था। जिस कमरे में इनकी लाश मिली, वह अंदर से बंद था। ऑटो चालक ने सुसाइड नोट भी लिखा है, जिसमें उसने अपनी पत्नी की हत्या की बात नहीं लिखी है। उसने लिखा है- ससुराल वालों की प्रताड़ना से तंग आकर यह कदम उठा रहा हूं। नीचे अपना और पत्नी का नाम लिखा है। घटना बहोड़ापुर के गिर्राज कॉलोनी की है। पुलिस ने दोनों के शव का पोस्टमार्टम कराकर परिजनों के सुपुर्द कर दिया है। 

योगेश (Yogesh Rajput) (28) पुत्र नरेंद्र राजपूत (Narendra Rajput) निवासी गिर्राज कॉलोनी ऑटो चालक था। उसकी शादी 22 जनवरी को मोतीझील के रहने वाले रमेश धाकड़ (Ramesh dhakad) की बेटी रानी (RANI) (25) से हुई थी। बुधवार रात को दोनों खाना खाकर अपने कमरे में सोने चले गए थे। योगेश के पिता नरेंद्र सिक्याेरिटी गार्ड हैं और ड्यूटी पर गए थे। भाई अपने पत्नी-बच्चों के साथ अपने कमरे में था। सुबह करीब 9 बजे नरेंद्र ड्यूटी से घर लौटकर आए। उनका बड़ा बेटा बच्चों को लेकर पार्क में टहलने गया था। योगेश का कमरा अंदर से बंद था। उन्होंने दरवाजा खटखटाया लेकिन गेट नहीं खुला। उन्हें लगा योगेश और रानी सो रहे होंगे। कुछ देर इंतजार करने के बाद वह पड़ोस में रहने वाली महिला को बुलाकर लाए और रानी को जगाने को कहा।

उसने भी दरवाजा खटखटाया, काफी देर तक आवाज लगाई। लेकिन जब गेट नहीं खुला तो खिड़की की तरफ रखा कूलर हटाया। कूलर हटाकर अंदर झांका तो योगेश फांसी के फंदे पर लटका था। जमीन पर रानी पड़ी हुई थी। यह देखकर तो पूरे घर में चीख-पुकार मच गई। सूचना मिलने पर टीआई बहोड़ापुर विवेक अष्ठाना, फोरेंसिक एक्सपर्ट डॉ.आनंद पांडेय पहुंचे। पुलिस ने दरवाजा तोड़ा और अंदर जांच की। बिस्तर पर सुसाइड नोट मिला। योगेश ने साफी से फंदा बनाकर फांसी लगाई थी। रानी के गले में भी फंदे के निशान मिले और नाक-मुंह से खून निकला। इससे स्पष्ट है, उसकी भी मौत गला घोंटने से ही हुई है। गले पर नाखून के निशान भी मिले हैं।