सहकारी बैंक के CEO सस्पेंड, कार्यकाल की जांच होगी: मंत्री डॉ गोविंद सिंह | MP NEWS

श्योपुर। शुक्रवार को श्योपुर आए सहकारिता मंत्री डॉ.गोविंद सिंह कलेक्ट्रेट में विभिन्न योजनाओं की समीक्षा बैठक ली और इसमें अपने तीखे तेवर दिखाते हुए विभिन्न अनियमितताओं में जिला सहकारी बैंक मुरैना के सीईओ प्रभाकर अरस्तु को निलंबित कर दिया। इसके साथ ही सीइओ प्रभार के कार्यकाल और अनियमितताओं की जांच के लिए डीआर मुरैना एसके सिंह को निर्देश दिए।

बैठक में मंत्री डॉ. सिंह खरीफ फसल के लिए खाद भंडारण की समीक्षा कर रहे थे, तभी जिला सहकारी बैंक मुरैना सीइओ अरुस्तु प्रभाकर ने बताया कि श्योपुर जिले में सहकारी संस्थाओं के पास 84 फीसदी खाद का भंडारण हो गया है, इसी पर कांग्रेसी नेता रामलखन हिरनीखेड़ा ने कहा कि ये गलत है, धरातल पर तो अभी महज 4-5 फीसदी भी नहीं हुआ है। इस पर डॉ.सिंह ने सीइओ प्रभाकर पर न केवल नाराजगी जताई बल्कि फटकार भी लगाई। 

वहीं बैठक के दौरान हिरनीखेड़ा व अन्य लोगों ने प्रभाकर के एक दशक के कार्यकाल में बैंक में हुई नियुक्तियों और अनियमितताओं का मामला उठाया तो मंत्री डॉ. सिंह ने प्रभाकर को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया। इसके साथ ही एक माह के भीतर जांच करने के निर्देश डीआर मुरैना एसके सिंह को दिए।