Loading...

भाजपा की महापौर: राष्ट्र गान और राष्ट्र गीत का अंतर तक नहीं पता: INDORE NEWS

इंदौर। सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हुआ है, जिसमें मध्य प्रदेश के इंदौर की महापौर मालिनी गौड़ राष्ट्र गान और राष्ट्र गीत में अंतर नहीं बता पाईं। इस वीडियो में एक पत्रकार के पूछने पर महापौर ने पहले राष्ट्र गान (जन-गण-मन) का सही उत्तर दिया और कहा कि राष्ट्र गान खड़े होकर गाना पड़ता है। 

बैठकर गाने से उसका अपमान होता है। बाद में उन्होंने जन-गण-मन को राष्ट्र गीत बताया और कहा राष्ट्र गीत और राष्ट्र गान एक ही हैं। यह वीडियो नगर निगम के बुधवार को हुए बजट सम्मेलन का है, जिसमें राष्ट्र गान और राष्ट्र गीत को लेकर गफलत हुई थी। पार्षदों को सम्मेलन की शुरुआत में 'वंदे मातरम" गाना था लेकिन उन्होंने 'जन-गण-मन" गा दिया। बाद में गलती का अहसास हुआ तो 'जन-गण-मन" बीच में रोककर 'वंदे मातरम" शुरू किया गया।

मामले की शिकायत नेता प्रतिपक्ष फौजिया अलीम ने संभागायुक्त, कलेक्टर और निगमायुक्त को की है। इस मामले में महापौर ने कहा कि बुधवार को सम्मेलन के दौरान शोरगुल में मुझसे सवाल किया गया था, इसलिए मैं ठीक तरह से सुन नहीं पाई। संभवत: इसीलिए गफलत हुई होगी।